Thursday, May 23, 2024
Homeसोलननालागढ़भाजपा नेता महिलाओं को वोट बैंक समझने की गलती न करे: सीमा...

भाजपा नेता महिलाओं को वोट बैंक समझने की गलती न करे: सीमा शर्मा

नालागढ़ /ऋषभ शर्मा

महिला आरक्षण विधेयक संसद में पास करवाने में विपक्ष का अहम योगदान रहा है। अगर विपक्ष का दबाव और साथ न होता तो केंद्र सरकार कभी भी महिला आरक्षण बिल संसद में नहीं लेकर आती यह बात ऊना ब्लॉक महिला कांग्रेस अध्यक्ष सीमा शर्मा ने कही।

उन्होंने कहा कि भाजपा नेता महिलाओं को वोट बैंक समझने की ग़लती न करे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी का विजन सभी क्षेत्रों, वर्गों और समुदायों का समान विकास करना रहा है लेकिन भाजपा का विजन फूट डालो और राज करो वाला है। उन्होंने कहा कि भाजपा कभी भी महिला वर्ग की हितैषी नहीं रही। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार और दुष्कर्म करने वाले अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को भाजपा हमेशा संरक्षण देती रही है। चाहे भाजपा नेता कुलदीप सेंगर का मामला हो, चिन्मयानंद का मामला हो या हालही में महिला पहलवान बेटियों का मामला हो।
उन्होंने केंद्र सरकार को अनपढ़ करार देते हुए कहा कि केंद्र सरकार में क्या कोई मंत्री या सांसद नहीं है जो 543 सीटों का 33 प्रतिशत निकालने में समर्थ हो। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि संसद में महिला आरक्षण बिल पास होने के बाद भी भाजपा सरकार की नीयत में खोट है। इसी कारण इस विधेयक को लागू करने में देरी करने के लिए जनगणना और परिसीमन का बहाना लगा रही है। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा सरकार की महिला आरक्षण बिल पर मंशा साफ है तो किंतु परंतु करने की बजाय आगामी 2024 के लोकसभा चुनावों से ही इस बिल को लागू करे। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता अपनी रूढ़िवादी सोच के चलते महिलाओं को समानता का दर्जा दिलाने में हिचकिचाहट महसूस कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments