Thursday, May 23, 2024
Homeऊनाबंगाणाहटली क्लब में सीता स्वयंबर में माता सीता की विदाई में भावुक...

हटली क्लब में सीता स्वयंबर में माता सीता की विदाई में भावुक हुआ पूरा पंडाल


राकेश राणा //बंगाणा

  उपमण्डल बंगाणा के श्री राम नाटक क्लब हटली में चल रही शुद्ध रामायण के तीसरे नवरात्रे में सीता स्वयंबर पर सीता माता के बिबाह के बाद बिदाई पर पूरा पंडाल गमगीन हुआ। और खड़े होकर भाबुक रूप से माता सीता को बिदाई दी। क्लब के निदेशक बिपन साजन ने जानकारी देते हुए बताया कि हटली क्लब के तीसरे नवरात्रे के उपलक्ष्य पर सीता स्वयम्बर के सीन दर्शाए गए। जिसने ज्योति क्लॉथ हाउस के सीएमडी ज्योति बर्ज़ाता एमडी हंसराज

बर्ज़ाता,दीवा डिज़ाइनर एप्प के प्रवंधन एबम हटली क्लब में माता सीता का अभिनय करने बाले युबा ब्यावसाई,आज के युबाओ के प्रेरणास्त्रोत अंकुश बर्ज़ाता में श्री राम नाटक क्लब हटली में सीता स्वयंबर में कन्यादान के रूप में 21,151रुपये की धनराशि प्रदान की। सीता स्वयंवर में महाराजाओं के साथ साथ लंका पति रावण ने भी शिव धनुष को उठाने के लिए शिरकत की। ओर बाणासुर ओर रावण में भयंकर सम्बाद हुआ। बही आकाशवाणी होने पर रावण बिना धनुष उठाये चले गए। दर्जनों भर राजाओं ने भी शिव धनुष उठाने की चेष्टा की। लेकिन आखिर में जब धनुष का चिल्ला कोई राजा नहीं चढ़ा सका। तो विश्वामित्र ने प्रभु श्री राम जी को आज्ञा दी। और प्रभु श्री राम जी ने शिव धनुष तोड़ा। बही वेद मन्त्री सहित प्रभु श्री राम जी और माता सीता जी का बिबाह हुआ। और सीता बिदाई के समय पूरा पंडाल भाबुक हुआ। बिपन साजन ने बताया कि हटली क्लब में बीते 65 बर्षो से शुद्ध रामायण का मंचन हो रहा है। और निशुल्क भाब से हर कलाकार अपना अभिनय बेहतर ढंग से निभा रहा है। कमेटी द्वारा दर्शकों को बैठने के लिए कुर्सियां वाटर प्रूफ टैंट रात दस बजे चायपान करवाया जाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments