Wednesday, April 24, 2024
Homeऊनाबंगाणाजरनल कैटागिरी का दंश झेल रहा मनोहर लाल का परिवार,एक कमरे में...

जरनल कैटागिरी का दंश झेल रहा मनोहर लाल का परिवार,एक कमरे में चल रहा गुजर बसर

राकेश राणा /बंगाणा

जिला ऊना उपमंडल बंगाणा क्षेत्र की सिहाणा पंचायत के गांव सिहाणा के मनोहर लाल पुत्र दिलीप सिंह ओर उनकी 90/विकलांग धर्मपत्नी ममता देवी  अपने दो बच्चों वेटी राधिका ओर वेटा कार्तिक सहित रह रहे थे।जो कि आई आर डीपी श्रेणी में तो आते हैं। परन्तु जरनल कैटागिरी होने का दंश आज भी झेल रहे हैं।

मनोहर लाल कि आठ वर्षीय पुत्री राधिका को रविवार सुबह कच्चे घर के एक मात्र कमरे में सोते हुए जहरीले सांप ने डस लिया था और वेटी राधिका की मौत हो गई थी।
मनोहर लाल का कहना है कि आज दिन तक गरीवी रेखा से नीचे होने का प्रमाणपत्र तो मिला है, परन्तु सहूलियत अभी भी कोसों दूर हैं।आज दिहाडी मजदूरी करके घर का गुजारा चला रहा है। पत्नी 90/विकलांग है उसे छोड़ कर बाहर काम पर भी नहीं जा सकता हूं।एक कच्चे कमरे में गुजारा चला रहे हैं। सरकार व प्रशासन से एक पक्का मकान बनाने की गुजारिश है।

बहीं पर स्थानीय पंचायत प्रधान सुनील कुमार तथा उप प्रधान मंजीत सिंह का कहना है कि मनोहर लाल एक अति गरीब परिवार से संबंध रखता है। पंचायत द्वारा मनोहर लाल को बीपीएल सूची में डाला गया है।और इस परिवार को मकान की बहुत जरूरत है। पंचायत द्वारा इस पीड़ित परिवार को मकान के लिए प्रस्ताव डालकर विभाग को पहले ही भेजा जा चुका है। परन्तु अभी तक इनका नाम सुची में नहीं आया है।
बहीं पर बीडीओ बंगाणा अरूण जेटली का कहना है कि मामला उनके ध्यान में आया है पीड़ित परिवार को उचित सहायता राशि प्रधान करने की कोशिश की जाएगी।
बहीं पर कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक देवेन्द्र कुमार भूटटो का कहना है कि मामला उनके ध्यान में आया है जल्द से जल्द पीड़ित परिवार को मकान सहित अन्य उचित सहायता राशि प्रधान की जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments