मंडी

सांसद रामस्वरूप शर्मा के आकस्मिक निधन से समूचे जोगिंदर नगर विसक्षेत्र में शोक की लहर


विधायक प्रकाश राणा व पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने सांसद के निधन पर जताया शोक

(जोगिंदर नगर)अमित सूद


मंडी के सांसद रामस्वरूप शर्मा का बुधवार सुबह दिल्ली में निधन हो गया। उनके निधन का समाचार मिलते ही जोगिंदर नगर विसक्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। उनका बड़ा बेटा शांति स्वरूप पिता के आकस्मिक निधन की बात सुन कर सुबह ही दिल्ली के लिए रवाना हो गया। उनकी धर्मपत्नी चंपा शर्मा पिछले सप्ताह ही किसी धार्मिक अनुष्ठान में भाग लेने द्वारिका गई थी। जो कि बुधवार जयपुर से अपने पति की मौत का समाचार मिलने के बाद दिल्ली के लिए रवाना हुई।


सांसद राम स्वरूप शर्मा के निधन को लेकर आम जन सतब्ध है व उनके निधन पर यकीन नही कर पा रहे।
आम व्यक्ति की उन तक सीधी पहुंच रही है। वे जब भी जोगिंदर नगर आते,जोगिंदर नगर बाजार का पैदल दौरा कर सभी दुकानदारों के साथ प्रेम पूर्वक मिलते।
रामस्वरूप शर्मा साधारण परिवार से संबंध रखने वाले जमीन से जुड़े नेता रहे। संगठन के प्रति अपने समपर्ण व वफादारी की बदौलत इस मुकाम पर पहुंचे थे तथा वर्ष 1985 में एनएचपीसी की नौकरी छोड़ संघ का कार्य करते करते भारतीय जनता पार्टी के संगठन का कार्य करते उन्होने संगठन में अपनी अलग पहचान बनाई और पार्टी ने भी उनकी वफादारी का ईनाम 2014 में लोकसभा का टिकट देकर दिया जिसमें राम स्वरूप शर्मा ने प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह की धर्मपत्नि प्रतिभा सिंह को लगभग 39 हजार से अधिक मतों से हरा कर संसद में पहुंचे। खुद को सुदामा कहने वाले राम स्वरूप शर्मा ने वर्ष 2019 में फिर से भाजपा टिकट पर मंडी संसदीय चुनाव लड़ा और कांग्रेस प्रत्याशी पंडित सुख राम के पौत्र आश्रय शर्मा को चार लाख से अधिक मतों से पराजित कर दूसरी बार संसद में पदापर्ण किया। रामस्वरूप शर्मा पूर्व में दो बार प्रदेश भाजपा के संगठन मंत्री रहे हैं जबकि प्रदेश में धूमल के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में वे प्रदेश नागरिक आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। मौजूदा में वह भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष भी थे। कुछ वर्ष पूर्व उन्हे दिल का दौरा भी पड़ा था लेकिन आपरेशन पश्चात वे स्वस्थ हो गए थे लेकिन कुछ दिनों से वह कुछ अस्वस्थ चल रहे थे। वह अपने पीछे पत्नि चपा शर्मा सहित तीन पुत्र व पुत्रवधुओं को छोड़ गए हैं। राम स्वरूप शर्मा का जम 10 जून 1958 को करीबी जलपेहड़ गांव में स्र्वगीय रामेश्वर शर्मा के घर हुआ था।
विधायक प्रकाश राणा व पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने सांसद के निधन पर जताया शोक :-
जोगिंदर नगर के विधायक प्रकाश राणा व पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने सांसद राम स्वरुप शर्मा के निधन शोक व्यक्त किया व शोकसंतप्त परिवार के प्रति सहानुभूति प्रकट की। उन्होंने कहा कि राम स्वरूप शर्मा को मंडी संसदीय क्षेत्र की जनता ने दो बार चुन कर संसद भेजा था व जो क्षति क्षेत्र को उनके आकस्मिक निधन से हुई है वह कभी पूरी नही हो सकती। वहीं ठाकुर गुलाब सिंह ने कहा कि ये बहुत दुख का विषय है कि सांसद महोदय कुछ समय से अस्वस्थ थे तो दिल्ली में एम्स या उस जैसे बड़े अस्पताल होने के बावजूद वे स्वास्थ्य सुविधाओं से किस प्रकार से वंचित रहे। उन्होंने सांसद की आत्महत्या के पीछे रहे कारणों की जांच करवाने की अपील की है।
आज सांसद के निधन पर शोक प्रकट करने के लिए बंद रहेगा जोगिंदर नगर का बाजार :-
जोगिंद्रनगर व्यापार मंडल ने गुरूवार को सांसद राम स्वरूप शर्मा के निधन पर शोक स्वरूप बाजार बंद करने का निर्णय लिया है। व्यापार मंडल जोगिंद्रनगर के प्रधान अजय धरवाल ने कहा कि क्षेत्र के सांसद द्वारा विकास के लिए जो कार्य किया गया है उसे हमेशा याद रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में समस्त जोगिन्दर नगर की जनता उनके परिवार के साथ खड़ी है। उनके सरल व्यवहार व उनके क्षेत्र के लिए किये गए कार्यों के लिए उनको हमेशा याद रखा जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!