आनी

देश के विकास में महिलाओं की भागीदारी महत्वपूर्ण : कमला वर्मा

स्वतंत्र हिमाचल
(आनी) विनय गोस्वामी

 

कृषि विभाग निरमंड द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के पर्व पर एक दिवसीय प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के अंतर्गत जागरूकता शिविर का आयोजन पंचायत समिति हॉल निरमंड में किया गया।

इस शिविर में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, महिला किसान और प्रगतिशील किसानों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर कमला वर्मा भाजपा महिला मोर्चा उपाध्यक्ष आनी मंडल ने शिरकत की विशेष तौर पर , नरोत्तम ठाकुर किसान मोर्चा उपाध्यक्ष कुल्लू मौजूद रहे।,

प्रिया नागटा विकास खंड अधिकारी निरमंड, गोपाल उद्योग प्रसार अधिकारी निरमंड, विशाल सूद, विषयवाद कृषि विशेषज्ञ निरमंड , संजय कुमार ,खंड तकनीकी प्रबंधक, अनिल, हेमराज ,सहायक तकनीकी प्रबंधक,परमानंद प्रगतिशील किसान द्वारा महिलाओं की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने की दृष्टि से विभाग की विकासात्मक योजनाओं की जानकारी दी।

प्रिया नागटा ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज के समय में महिलाएं हर क्षेत्र में आगे निकल चुकी हैं इसलिए ग्रामीण क्षेत्र में रह रही महिलाएं अपनी आमदनी को बढ़ाने के लिए कृषि विभाग व अन्य विभागों द्वारा चलाई जा रही स्वाबलंबन योजनाओं का लाभ लें। उन्होंने महिलाओं को पौष्टिक आहार ग्रामीण आजीविका योजना स्वयं सहायता समूह के गठन के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उद्योग प्रसार अधिकारी गोपाल ने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकारी योजनाओं और हथकरघा व अन्य लघु उद्योगों के बारे में बताया


इस शिविर में मुख्य अतिथि कमला वर्मा ने महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं दी और उन्होंने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि महिलाएं बागवानी के क्षेत्र में एकांकी महिला होकर भी आज समाज में एक अनुकरणीय योगदान पेश कर रही हैं। पुरुषों के मुकाबले भी वे अपना व्यवसाय कर सकती हैं और उन्होंने महिलाओं के भीतर महिला सशक्तिकरण का जोश जगाया। खंड विकास अधिकारी प्रिया नागटा ने प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के बारे में विस्तृत जानकारी साझा की। FAC चेयरमैन नरोत्तम ठाकुर ने पौष्टिक आहार के लाभ व महत्व पर विचार रखे । प्रगति किसान परमानंद और मुकेश मेहरा ने शून्य लागत प्राकृतिक खेती से तैयार किए गए फल सब्जी व अनाज की पौष्टिकता के बारे में विस्तृत जानकारी दी। विशाल सूट और संजय कुमार ने किसानों को प्राकृतिक खेती अपनाने और जहर मुक्त उत्पाद तैयार करने की विधि बताई और इस कार्यक्रम में पधारने पर हर महिला किसान और अतिथि गणों का आभार व्यक्त किया। इस प्रशिक्षण शिविर में 80 महिला किसानों ने प्रशिक्षण लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!