पीड़ित परिवार के समर्थन में आए उपाध्यक्ष स्वर्ण समाज प्रदेश कार्यकारिणी गुरचरण सिंह टोहरा

(देहरा)विनायक ठाकुर

 

 

माकड़ी पंचायत के कठपुर गाँव में करीब एक सप्ताह पूर्व दो पक्षों के बीच मारपीट की घटना में एक पक्ष के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट के तहत केस दर्ज करने का मामला तूल पकड़ गया है। पीड़ित परिवार के समर्थन में आए सवर्ण समाज ने इस कार्रवाई के विरोध में मोर्चा खोल दिया है। इसके तहत शनिवार को को स्वर्ण समाज प्रदेश कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष गुरचरण सिंह टोहरा ने कहा है कि उक्त मामले में यदि एट्रोसिटी एक्ट का दुरुपयोग करके कोई गिरफ्तारी की गई तो उग्र आंदोलन का सहारा लिया जाएगा। इसके लिए पुलिस प्रशासन खुद जिम्मेदार होगा।वहीं गुरचरण सिंह टोहरा ने कड़े शब्दों में कहा कि बिलासपुर जिला की माकड़ी पंचायत के कठपुर गांव में गत 21 मई को जमीनी विवाद को लेकर 2 पक्षों में मारपीट हुई। एक पक्ष द्वारा डंडों व पत्थरों से किए गए हमले की वजह से दूसरे पक्ष की एक युवती गंभीर रूप से घायल हो गई।

 

 

उसके नाक की हड्डी टूट गई। संबंधित परिवार को शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था, लेकिन अगले ही दिन आरोपियों ने उल्टा चोर कोतवाल को डटे की तरह झूठे आरोप लगाकर उन्हीं के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करवा दिया। गुरचरण सिंह ने कहा कि जाहिर है कि दूसरे पक्ष ने अपने बचाव के लिए यह कंडा अपनाया है। एट्रोसिटी एक्ट का दुरुपयोग किसी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा बेहतर होगा कि पीड़ित परिवार के खिलाफ एट्रॉसिटी एक्ट के तहत दर्ज एफआईआर रद की जाए। साथ ही दूसरे पक्ष के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए। यदि एट्रोसिटी एक्ट का दुरुपयोग करके कोई गिरफ्तारी की गई तो सभी स्वर्ण समाज सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंगे।
गुरचरण सिंह टोहरा ने कड़े शब्दों में कहा कि अगर पुलिस इस मामले पर संतोषजनक कार्यवाही अमल में नहीं लाती है तो देहरा स्वर्ण समाज के लोग भी एसपी कार्यालय बिलासपुर के बाहर देव भूमि क्षत्रिय संगठन के अध्यक्ष रूमित सिंह ठाकुर के साथ आकर सांकेतिक धरना भी देंगे जिसके जिम्मेदार पुलिस प्रशासन खुद होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!