सात वर्षों में बद से बदतर हुए हालात,बड़े घरानों के फ़ायदों के लिए लिए जा रहे तमाम फैसले : कुलदीप सिंह चम्बयाल

(सरकाघाट)रितेश चौहान

यहाँ जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में पूर्व पंचायत समिति अध्यक्ष कुलदीप सिंह चम्बयाल ने केंद्र की मोदी सरकर पर सता में रहते 7 साल पूर्ण होने को निराशाजनक ही नही करार दिया, बल्कि उक्त 7 सालो को देश की जनता अब सात जन्मों तक भी नही भुला पाने की स्थिति में है। जिस कदर आज देश में मंहगाई, बेरोजगारी, दहशत, भूक्मरी, महामारी का वातावरण बनाया गया है, इसका इतिहास भी गवाही देता रहेगा।
इन्हीं सात वर्षों में राफेल लड़ाकू विमानों का कई गुना ज्यादा कीमत पर खरीदने का घोटाला हो, बड़े बड़े धनाढ्यों का एनपीए के तहत अरबों रुपयों के कर्जे माफी का गोरखधंधा हो। बड़े बड़े लोगों द्वारा भारतीय बैंको से अरबों कर्जा लेकर यानी कि बैंको को सरकार की शय पर खाली करके उन शक्षों को सरकार की नाक तले देशांतर भगाने में मदद करना भी इसी 7 वर्ष में हुआ।

उन्होंने कहा कि देश में छोटे छोटे दुकानदारों, पेशेवरों, लघु उद्योगों के कारोबारियों, मजदूरों, किसानों, युवाओं, छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ हुआ है , देश के कर्मचारियों का डीए फ्रीज करना, भारी भरकम राशि से सेंट्रल बीसटा प्रोजेक्ट का अनावश्यक रूप से निर्माण करना इस दौर में और देश में आए दिनप्रतिदिन बढ़ रही हत्याएं, रैप, चोरी डकैती अत्याचार। तमाम इन मुद्दों का समय रहते निराकरण न होने से किस मुंह से आज भाजपा सता में 7 साल पूर्ण होने पर जश्न मनाने और भुनाने तथा लोगों को गुमराह करने में मशगूल हो रही है।
उन्होंने कहा कि 2014 के लोक सभा चुनाव से ठीक पहले जिस कदर मोदी ने अंदर खाते कुछ मुट्ठीभर कारपोरेट घरानों के सहयोग भाजपा सता में आई और अन्य वादें जिसमें :- स्विसबैंक में जमा काले धन को वापस भारत लाकर उसे जनता में बाटना। जिसके तहत हर भारतीयों के खातों में 15 -15 लाख रुपए जमा करवाए जायेंगे।

हर साल दो करोड़ बेरोजगार युवाओं को रोजगार मुहैया करवाना।(सात सालों में अब तक 14 करोड़ बेरोजगारों को रोजगार मिलना चाहिए था।इतना ही नही करोना काल में देश और विदेशों मे लगभग 12-13 लाख युवाओं का लगा लगाया रोजगार छीन गया। अब वो बेरोजगार होकर घर पर बैठे हैं। इसी तरह सता में आने के 100 दिन के अंदर महंगाई को कम करने की बात की थी । जब कि 100 दिनों के अंदर महंगाई कम तो न जी सकी उल्टे सात सालों में 100% महंगाई हो गई। इतना ही नही देश में पिछले 11 सालों में इस बार रिकॉर्ड तोड़ महंगाई दर्ज की गई। आज “अकड़ बकड़ बंबे बोल डीजल 90 पेट्रोल ₹100 डीजल, 100 में लगा धागा सिलेंडर उछल के भागा, और पालकी में होकर दाल चली रे 70 वर्ष को रिकॉर्ड 7 में ही तोड़ चली रे “। खाने का तेल महंगा तथा पीने के शराब सस्ती हो हो गई है।
कुलदीप सिंह चम्बयाल ने कहा कि इसी 7 वर्ष में पहली बार प्रधान मंत्री केयर फंड योजना का सूत्रपात हुआ। जिसमें अब तक अरबों खरबों रुपए जमा हो चुके होंगे? इस फंड का न ऑडिट,न आरटीआई,न कोर्ट कुछ नहीं। ये 7 वर्ष हर वर्ग के लिए निराशाजनक रहे हैं और मुठ्ठीभर घरानों के हितों के लिए फैसले लिए हैं और पब्लिक सेक्टर उनके हाथों में गीरबी रख दिया है या बेच दिया है जो दुर्भाग्य पूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!