प्रेमिका का MMS बनाकर ब्लैकमेल कर रहा था युवक, लड़की के परिजनों ने दी यह खौफनाक सजा

स्वतंत्रत हिमाचल(ब्यूरो)

बिहार के मधेपुरा जिला के उदाकिशुनगंज अनुमंडल अंतर्गत चौसा थाना क्षेत्र के फुलौत पूर्वी पंचायत निवासी रिकेश कुमार के हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. एसपी ने बताया कि रिकेश की हत्या प्रेम प्रसंग में लड़की का आपत्तिजनक फोटो-वीडियो (offensive photos and video) बना कर ब्लैकमेल करने की वजह से हुआ. इस मामले में पुलिस ने लड़की, उसकी मां और उसके जीजा को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं लड़की के पिता और अन्य तीन लोगों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास जारी है. बता दें कि 4 मार्च को एक शादी समारोह में जाने के बाद रिकेश गायब था. तीन दिन बाद उसका शव बहियार में मक्के के खेत में मिला था.

धेपुरा जिला के उदाकिशुनगंज अनुमंडल अंतर्गत चौसा थाना क्षेत्र के फुलौत पूर्वी पंचायत निवासी रिकेश कुमार के हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है.

एक महीने पहले हुए प्यार का अंजाम इतना खौफनाक होगा कोई सोच नहीं सकता. प्रेमिका का अंतरंग वीडियो और फोटो बना कर ब्लैकमेल करने वाले आशिक को परिवार वालों ने लड़की से फोन कर बुलाया और उसे पहले पीट-पीट कर अधमरा किया फिर गोली मार दी. मामला मधेपुरा जिला के उदाकिशुनगंज अनुमंडल अंतर्गत चौसा थाना क्षेत्र के फुलौत पूर्वी पंचायत का है, जहां के निवासी रिकेश कुमार के हत्या 4 मार्च को कर दी गई  थी. बताया जा रहा है कि रिकेश एक लड़की के संपर्क में था. दोनों की अंतरंग तस्वीरें उसके  पास थी, जिसे लेकर वह लड़की को परेशान कर रहा था. रिकेश की बढ़ती मांग से लड़की परेशान हो गई थी और सारी कहानी अपने परिवार वालों को बता दिया. बताया जाता है कि लड़की के परिवारवाले रिकेश और उसके परिवार वालों से इस बात की शिकायत भी किया. दो बार पंचायत भी हुआ लेकिन रिकेश अपनी आदत से बाज नहीं आया. फिर क्या था परिवार वालों ने अब रिकेश को सबक सिखाने का खतरनाक रास्ता चुना लिया.

लड़की के घरवाले ने हत्या से पहले युवक के साथ जमकर की थी  मारपीट 

जानकारी के मुताबिक, 4 मार्च को दोपहर में रिकेश ने लड़की को फोन कर बताया कि वह जगदीशपुर एक शादी में आ रहा है. उसने लड़की को रात मिलने को कहा. इस बात की जानकारी लड़की ने परिवार वालों को दे दी. लड़की के जीजा भी भागलपुर से आ गए और हत्या की योजना बना ली गई. रात करीब 11 बजे लड़की ने रिकेश को फोन कर बताया की घर पर सभी लोग सो चुके हैं. रिकेश शादी से बाइक उठाया और लड़की से मिलने 11 बजे रात को निकल गया. उसके साथी ने अकेले जाने से रोका तो उसने कहा 15 मिनट में आ रहा हूं.

उधर लड़की ने घर से करीब 100 मीटर दूर एक आम के बगीचे में रिकेश को बुला लिया, जहां उसके परिवारवाले छिपे थे. रिकेश जैसे ही बगीचा में पहुंचा उसे घेर लिया गया और पहले उसकी जम कर लाठी-डंडे, वायर आदि से पिटाई की गई फिर गोली मारी गई. इसी बीच जब रिकेश के मोबाइल पर उसके दोस्त ने फोन किया तो फोन उठाने वाले ने गाली-गलौज देते हुए फोन काट दिया. पुलिस को चकमा देने के लिए लड़की के परिजनों ने बाइक को आलमनगर थाना क्षेत्र में गनौल में सड़क किनारे फेंक दिया, जबकि शव को घर से दो किलोमीटर दूर बहियार में मक्के के खेत में फेंक दिया.

एसपी राजेश कुमार ने बताया कि 5 मार्च को आलमनगर पुलिस ने गनौल में सड़क किनारे एक गड्ढे में लावारिस हालत में बाईक मिली थी. यह बाइक रिकेश का था और वह अपने दोस्त सिंटू के साथ आलमनगर थाना क्षेत्र के जगदीशपुर बाजार निवासी वीरेंद्र ठाकुर के घर विवाह का भोज खाने के लिए 4 मार्च की रात 9 बजे गया था. इसी दौरान रात करीब 11 बजे फोन आने के बाद वह अपने दोस्त सिंटू कुमार को वहीं छोड़कर बाइक से निकल गया.

फरार आरोपियों की तलाश जारी 

लड़की ने पूछताछ के क्रम में बताया कि रिकेश उसके कुछ आपत्तिजनक फोटो वीडियो के माध्यम से उसे ब्लैकमेल कर रहा था. पुलिस टीम ने वैज्ञानिक अनुसंधान से मामले का खुलासा किया है. रिकेश और लड़की के बीच मोबाइल पर कई बार बात हुई है, जिस दिन वह गायब हुआ उस दिन भी लड़की ने ही फोन कर उसे बुलाया था. हत्या के बाद जब पुलिस उस नंबर की छानबीन शुरू की तो लड़की को भागलपुर के परबत्ता से उसके बहनोई सरोज कुमार के साथ गिरफ्तार किया गया. एसपी ने बताया लड़की 5 मार्च की सुबह हत्या के बाद अपने बहनोई के साथ उसके घर चली गई थी. इस मामले में पुलिस ने उसकी मां को भी गिरफ्तार किया है, जबकि हत्या में शामिल लड़की के पिता सुबोध मंडल और उसके चचेरे भाई आनंद कुमार, गुलशन कुमार की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!