मंडप में दी मांडव बचत एवं उधार सहकारी समिति लिमिटेड का विस्तार पटल

 

अध्यक्ष बलवंत ठाकुर ने किया शाखा कार्यालय का शुभारम्भ हुआ

(सरकाघाट)रितेश चौहान

दी मांडव बचत एवं उधार सहकारी समिति लिमिटेड की मंडप शाखा के विस्तार पटल का
शुभारम्भ समिति के अध्यक्ष बलवंत ठाकुर द्वारा किया गया इस कार्यक्रम में सोसायटी के चेयरमैन, पदाधिकारी समेत क्षेत्र के कई गणमान्य लोग मौजूद रहे। इस दौरान मांडव परिवार के सदस्यों को संबोधित करते हुए अध्यक्ष बलवंत ठाकुर ने कहा की सभा का मुख्या सिद्धांत पारस्परिक सहयोग व सकारिता के सिद्धांत का पालन करते हुए अपने सदस्यों और सहयोगी की लगत वाली वित्तीय सुविधा प्रदान करके वित्तीय समावेस्ता लाना है तथा वहन करके वित्तीय योग्य वित्तीय सुविधा देना व गरीब व शोषित लोगों में बचत की आदत पैदा करना उनसे निवेश करवाना और आवश्यकता अनुसार खरीद , ऋण प्रदान करना हमारी सभा के मुख्य उद्देश्य में शामिल है। मंडप में विस्तार पटल का शुभारम्भ के मौके पर सभा के अध्यक्ष बलवंत सिंह ठाकुर मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे। उन्होंने कहा की सहकारिता हिमाचल वासियों को विरासत में प्राप्त है। सहकारिता वास्तव में आदिकाल से हिमाचल के प्रदेश वासियों के रहन सहन व जीवन यापन की शैली रही है। इस जीवन शैली के आधार पर हिमाचल देश में सहकारी सभा की स्थापना का श्रेय हिमाचल प्रदेश को जाता है। जब 1882 में उना जिले का पंजवार नामक स्थान में मिया हिरा सिंह ने सहकारी विचार धारा पर पहली  सभा का गठन किया।

यह सहकारी रूपी पौधा आज पुरे देश में फल फूल कर गरीबी उन्मूलन व आर्थिक विकास में सार्थक योगदान दे रहा है। देश के किसानो को साहूकारों के चुगल से मुक्त करने में सहकारी आंदोलन की प्रभावशाली भूमिका रही है। उन्होंने कहा है की सहकारी सभाएं शहरों के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों का भी तस्वीर बदलने में सक्षम है। सहकारी सभाओं के माधयम से जहाँ ग्रामीणों को विभिन्न तरह की गतिविधियों की सुविधा उनके घर द्वारा उपलब्ध होती है तो वहीँ विभिन्न तरह की बैंकिंग सुविधाओं का लाभ भी सुनिश्चित होता है उन्होंने कहा कि ने मंडप में दी माण्डव बचत एवं उधार सहकारी समिति लिमिटेड का विस्तार पटल खोले जाने से इस क्षेत्र के लोगों को हर तरह की बैंकिंग सुविधा होगी जैसे: सरल संचय, दैनिक जमा योजना, मासिक जमा योजना, लखपति जमा योजना, एकमुश्त जमा योजना, माण्डव कल्पवृक्ष, माण्डव शुभ लक्ष्मी, माण्डव सहकारी विकास पत्र। और ऋण की सुविधा आदि। इस मौके पर सभा के प्रबन्धक जितेन्द्र सिंह, सहायक प्रवन्धक जय पाल, लिपिक किरणा, दैनिक जमाकर्ता अजय कुमार, व दुनि चद सकलानी, दुर्गा दास सकलानी, दिवान चंद कटवाल, कश्मीर सिंह कटवाल, लाल सिंह, रवि कुमार, पवन कुमार, अति देवी, सन्तोष कुमारी सहित उपभोक्ताओं व अन्य लोगों ने भी भाग लिया।
इस अवसर पर सभा के सदस्यों ने सहकारिता के क्षेत्र में हो रहे विकासात्मक कार्यों आन्दोलनों व कार्यक्रम पर  तथा लोगों से सहकारिता के क्षेत्र में अपनी भगीदारी बढ़ाने व  साथ बचत की आदत डालने का आह्वान किया। दी माण्डव बचत एवं  उधार सहकारी समिति लिमिटेड पिछले कई वर्षों से विभिन्न सामाजिक सरोकारों की पैरवी व कमजोर वर्गों के उत्थान हेतु कार्य कर रही है। इस चुनौती का प्रभावी तौर पर समाज के सभी वर्गों को एकजुट होने की जरुरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!