महामारी के दौर में भी राजनीतिक फ़ायदा लेनें जुटा है मंत्री का परिवार

कोविड किट वितरण भी बना दिया है भाजपा का प्रोग्राम
प्रशासन या बीएमओ के बजाए मन्त्री का बेटा कर रहा सामग्री वितरण

(सरकाघाट)रितेश चौहान

धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में पिछलेसप्ताह से सांसद निधि और प्रधानमंत्री केयर फंड तथा राज्य सरकार द्धारा स्वास्थ्य केंद्रों को दी जा रही कोरोना किट और दवाएं वितरित करने का काम विभागीय अधिकारियों के बजाये भाजपा कार्यकर्ता और विशेष तौर पर जलशक्ति मन्त्री का बेटा कर रहा है।मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता व पूर्व ज़िला परिषद सदस्य भूपेंद्र सिंह ने इस पर एतराज़ जताया है और किट वितरण को भाजपा का प्रोग्राम बनाये जाने की निंदा की है।उन्होंने बताया कि मन्त्री का बेटा गत सप्ताह से स्वास्थ्य केंद्रों और ग्राम पंचायतों के प्रधानों को सरकार से प्राप्त सामग्री वितरित करने में लगे हैं और इसे भाजपा धर्मपुर मण्डल का प्रोग्राम बना दिया गया है।इस महामारी के दौरान भी वे राजनैतिक फ़ायदा लेने के लिए नियमों को ताक पर रख कर ये सब कर रहे हैं।

  गौरतलब है कि अभी हाल ही में प्रधानमंत्री केयर फंड से सांसद अनुराग ठाकुर द्धारा कोविड रोकथाम की सामग्री धर्मपुर खण्ड को जारी की है और उसकी उन्होंने पिछले कल सभी उपायुक्तों से फीडबैक मीटिंग भी की है लेकिन धर्मपुर में ये सामग्री प्रशासन या बी एम ओ को न देकर मन्त्री के बेटे व भाजपा मीडिया सह प्रभारी रजत ठाकुर को सौंपी हैं और वे फ़िर इसे आगे स्वयं वितरित कर रहे हैं।कई पंचायतों में तो भाजपा के नेता इसका वितरण कर रहे हैं। होम आइसोलेशन में रह रहे संक्रमितों के लिए भी अलग से एक किट सरकार ने जारी की है

और उसे भी घर घर भाजपा कार्यकर्ताओं के माध्यम से दिया जा रहा है।जबकि कोरोना सबंधी सारा काम हर गांव में कार्यरत आशा वरकरें कर रही हैं और पँचायत स्तर पर सरकार ने प्रधान की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स भी गठित की है लेकिन धर्मपुर में न तो स्वास्थ्य विभाग और न ही ग्राम पंचायतों को विस्वास में लिया जा रहा है और सब कुछ मन्त्री का बेटा व भाजपा कार्यकर्ताओं के माध्यम से किया जा रहा है और उसमें वे अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को प्राथमिकता पर ये किटें वितरित कर रहे हैं।

इसके अलावा पिछले कल मन्त्री की बेटी ने भी अपने आवास चोलथरा में भाजपा कार्यकर्ताओं की मीटिंग बुलाई और आनन फानन में हैंड वाश, मास्क, सेनिटाइजर इत्यादि के पैकेट अपने कार्यकर्ताओं के माध्यम से बंटवाये हैं और ये दर्शाने की कोशिश की गई कि वो सेवा में अपने भाई से पीछे नहीं है।भूपेंद्र सिंह ने कहा कि आज जनता को हैंड वाश व मास्को के बजाए वैक्सीन और दवाओं की जरूरत है।अस्पतालों में कोविड नियंत्रण के उपकरण जिसमें ऑक्सीजन, वेंटीलेटर, पी पी ई किट, टैस्टिंग हेतु लैब और स्टाफ़ मुहैया कराने की ज़रूरत है।

लेक़िन ऐसा न करके अपनी राजनीति चमकाने के लिए इस आपदा का इस्तेमाल किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि जिन व्यक्तियों की मौत कोरोना के कारण हो रही है उन्हें कोई वितीय सहायता प्रदान नहीँ की जा रही है जबकि मृतकों के परिवारों को दुर्घटनाओं में मारे जाने वाले व्यक्ति के बराबर 4 लाख रुपये दिया जाना अति आवश्यक है।लेकिन इसके बारे में न तो मन्त्री कुछ कर रहे हैं और न ही भाजपा सरकार।इसलिए माकपा नेता ने मांग की है कि सभी प्रकार की सामग्री का वितरण विभागीय अधिकारियों के माध्यम से निष्पक्ष आधार पर किया जाए।कोविड के चलते बेरोजगार युवाओं को साढ़े सात हज़ार रुपये भत्ता दिया जाए डिपो के माध्यम से अगले छह महीने के लिए मुफ्त राशन दिया जाए और अभी को जल्दी टिका लगाने का प्रबन्ध किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!