काँगड़ा

हिन्दूओं के धर्मस्थलों में गैर मत मजहबियों  का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित हो : केसरिया हिन्दू वाहिनी

 

हर मन्दिर के बाहर इसकी स्थाई सूचना लगाई जाये
  मुख्य द्वार पर ऊर्दू अथवा फारसी में लिखित शब्दों को मिटाया जाये

(कांगडा)मनोज कुमार

केसरिया हिन्दू वाहिनी अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दू संगठन  के मुख्य प्रकोष्ठ के जिला कांगड़ा अध्यक्ष इंजीनियर चन्द्र भूषण मिश्रा के नेतृत्व में जिला कांगड़ा कार्यकारिणी का एक प्रतिनिधिमण्डल  उप मण्डल अधिकारी (नागरिक)कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश से मिला और इनके माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश मुख्यमंत्री  जयराम ठाकुर को आग्रह स्वरूप ज्ञापन सौंपा ।केसरिया हिन्दू वाहिनी अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दू संगठन जो 13 मन्त्रालयों द्वारा पंजीकृत और भारत देश के 27 राज्यों के साथ-साथ पूरी दुनियाँ के 6 देशों में भी अपनी पहुँच बना चुका एक गैर राजनीतिक हिन्दू संगठन है l

केसरिया हिन्दू वाहिनी के अध्यक्ष चन्द्र भूषण मिश्रा ने कहा कि जिनकी आस्था ही नहीं है हमारे आराध्यों में, उनका हमारे देव-स्थलों में क्या काम.. हिन्दूओं के प्रत्येक धार्मिक स्थलों में गैर मत मजहबियों का प्रवेश प्रतिबंधित हो l हर हिन्दू मंदिर एवं धार्मिक स्थलों के बाहर इसकी स्थाई सूचना लगाई जाये और जैसे नगरकोट धाम कांगड़ा माता वज्रेश्वरी देवी के मन्दिर के बाहर मुख्य द्वार पर ऊर्दू अथवा फारसी में लिखित शब्दों को मिटाकर हिन्दी अथवा संस्कृत भाषा में लिखा जाये।

उन्होंने बताया कि हिन्दू एग्रीमेंट एक्ट 1984 के अनुसार, हिन्दू मन्दिरों में कोई भी गैर हिन्दू नहीं रखा जा सकता है तो पिछली हिमाचल प्रदेश सरकार के समय सन् 2017 में शक्ति पीठ माँ ज्वालाजी जिला कांगड़ा के मन्दिर में कुछ मुस्लिम कर्मचारी क्यों रखे गए हैं l हिन्दू मन्दिरों के देवी देवताओं की मूर्तियों से नफरत करने वाले हिन्दू मन्दिरों की सेवा कैसे कर सकते हैं और मन्दिर के न्यास का पैसा, उन पर क्यों लुटाया जा रहा है l माननीय उपायुक्त महोदय कांगड़ा स्थित धर्मशाला द्वारा जारी 18 मार्च, 2021 का स्थानांतरण पत्र पढ़ा जिसमे दो विशेष समुदाय के  कर्मचारियों की ट्रांसफर उपायुक्त कार्यालय धर्मशाला में कर दिये गये हैं l परन्तु उसमें यह भी लिखा गया है कि  उन दो मुस्लिम कर्मचारियों का वेतन ज्वालामुखी मंदिर न्यास ही देगा l  फिर तो मतलब यह हुआ कि यह कर्मचारी ज्वालामुखी मंदिर न्यास के ही हैं l  इस हेतु केसरिया हिन्दू वाहिनी आपसे पुनः आग्रह करती है कि उन दोनों मुस्लिम कर्मचारियों को स्थाई तौर पर मन्दिर न्यास ज्वालामुखी से हटायें l यह सनातन धर्म हिन्दू संस्कृति व हिन्दू  समाज में इस विषय पर जन आंदोलन खड़ा होने में देर नहीं लगेगी lसनातन धर्म , हिन्दू संस्कृति और अपने देव स्थलों में , जिसमें करोड़ों सनातनियों की आस्था और श्रद्धा जुड़ी हुई है, खाने के पदार्थों में थूक, पेशाब आदि डालकर परोसने वालों द्वारा खिलवाड़ और हस्तक्षेप केसरिया हिन्दू वाहिनी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी l इस मौके पर सतीश चौधरी, जसवीर सिंह, मुकेश मैहरा और विशेष रूप से सनातन धर्म सभा के अध्यक्ष नरेन्द्र त्रेहन भी मौजूद रहे l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!