बीबीएन को गौरव सिंह और लखबीर सिंह जैसे अफसरों की जरूरत

बिगड़ती कानून व्यवस्था और बढ़ता क्राईम बना चिंता का विषय

– गोलीकांड के मुख्य आरोपियों को अभी तक नहीं पकड़ पाई पुलिस

(बद्दी)राकेश ठाकुर

बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ में दिन व दिन बढ़ता अपराध का ग्राफ चिंता का विषय बना है। कफ्र्यू में जहां सरेआम नेशनल हाईवे पर गोलियां चलाई गई और एक युवक को मौत के घाट उतारा दिया गया वहीं रविवार को एक सिक्योरिटी गार्ड की निर्मम हत्या कर दी गई। एक हफ्ता बीत जाने के बावजूद भी अभी तक खेड़ा में हुए गोलीकांड के मुख्य आरोपियों को पुलिस नहीं पकड़ पाई है। बीबीएन में खनन माफिया, शराब माफिया, गांजा, चूरा पोस्त, अफीम और चिट्टे का कारोबार जोरों से चल रहा है। यहां की युवा पीढ़ी जहां नशे की गर्त में धंसती जा रही है वहीं युवा अपराध के दलदल में तेजी से धंस रहा है। जिला पुलिस बीबीएन की कमजोर कार्यप्रणाली के चलते यहां पर अपराध तेजी से बढ़ रहा है।

ऐसे में यहां पर एसपी गौरव सिंह और तेजतर्रार लखवीर सिंह जैसे अफसरों की जरूरत है, तो ही यहां पर क्राईम कम हो सकता है। यह बात राष्ट्रीय मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष राज कुमार चौधरी व भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष मेला राम चंदेल ने कही। चौधरी व चंदेल ने कहा कि एसपी गौरव सिंह ने अपने कार्यकाल में जहां खनन और नशे पर नुकेल कसी वहीं बीबीएन में अपराधियों के मन में पुलिस का खौफ था। जबकि बतौर थाना प्रभारी व एसआईयू इंचार्ज रहे लखवीर सिंह ने जहां नशे पर नुकेल कसी वहीं कई ऐसे केस सुलझाए और अपराधियों को बाहरी राज्यों से लाकर सलाखों के पीछे धकेला।

बतौर थाना प्रभारी रहते हुए लखवीर सिंह ने पुलिस की एक अलग छवि प्रस्तुत की। राज कुमार चौधरी और मेला राम चंदेल ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू से गुहार लगाई है कि दोनों काबिल अफसरों को बीबीएन में तैनात किया जाए, ताकि यहां पर कानून व्यवस्था पटरी पर आ सके और अपराधियों में पुलिस का डर बने। राज कुमार चौधरी व मेला राम चंदेल ने एक लिखित मांग पत्र मुख्यमंत्री व डीजीपी शिमला को भेजकर गौरव सिंह व लखबीर सिंह की तैनात जिला पुलिस बीबीएन में करने की मांग उठाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!