एक ओर कोरोना महामारी  दूसरी ओर खुले में फैंका हुआ मेडिकल वेस्ट

कोरोना काल में अन्य संक्रमण से सहमे स्थानीय लोग

 

स्वंतंत्र हिमाचल

(नेरचौक) अमन शर्मा

कोरोना काल मे जहां पूरा देश व स्वास्थ्य कर्मचारी इस महामारी से डट कर मुकाबला कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे भी स्वास्थ्य सेवाएं देने वाले हैं जो इस खतरे को और बढा रहे हैं। ये लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे है। गौरतलब है कि नाचन क्षेत्र की बग्गी पंचायत के जगेड़ी नामक स्थान पर नहर किनारे किसी निजी स्वास्थ्य संस्थान द्वारा खुले में बायो मेडिकल वेस्ट फेंक कर लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ और जान का खतरा मोल लिया है।
क्योंकि जो भी बायो मेडिकल वेस्ट अस्पताल से निकलता है उसे अगर खुले में फेंका जाए तो लोगों व जीव जंतुओं दोनों को खतरे का सामना करना पड़ता है। इस बायो मेडिकल वेस्ट को जहां एक ओर आवारा पशु खाकर बीमारी फैला सकते वहीं दूसरी ओर हवा से उड़ कर किस आबादी वाले  स्थान में गिरने से भी भारी नुकसान हो सकता है। इस सम्बंध में पीएचसी बग्गी के स्वास्थ्य चिकित्सक डॉ रीना से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में इस बायो मेडिकल वेस्ट को उठाने का सरकार व स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूरा प्रबंध किया हुआ है। व्यवस्था के अनुसार इस वेस्ट को उपयुक्त स्थान में पहुंचाया जाता है। इस वेस्ट को उठाने के लिए हर दो दिन बाद गाड़ी आती है। विभाग द्वारा तय मापदंडों के हिसाब से इसे उन्हें सौंप दिया जाता है।


इससे साफ जाहिर होता है कि ये किसी निजी संस्थान का ही कार्य हो सकता है। स्थानीय पंचायत के प्रधान विकास गुप्ता,उप प्रधान दया राम, बार्ड पंच मीरा देवी, पुष्पा देवी, कमला देवी, तीखु राम, लक्ष्मी दत्त,भादर सिंह, अमर सिंह, मनु, मुकेश कुमार समेत दर्जनों लोगों ने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग से यहां फैंके गए बायो मेडिकल वेस्ट को उचित स्थान पर ले जाने और यहां इसे फेंकने वाले व्यक्ति की खोजबीन करके उसके प्रति सख्ती से पेश आने की मांग की है।

विकास गुप्ता प्रधान पंचायत बग्गी :-
जिस स्थान पर यह बायो मेडिकल वेस्ट फेंकी गई है। वहां एक ओर रास्ता और दुसरी ओर नहर किनारे बनी सड़क जाती है। जिसमे सैंकड़ो लोग आवाजाही करते हैं। साथ ही बिल्कुल नजदीक गांव भी है। जिससे अन्य संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इस ओर उचित कदम उठाकर इस वेस्ट को उठाने का ठोस कदम उठाएं ताकि स्थानीय लोग संक्रमण से सुरक्षित रह सके।

डॉ खीमा राम शर्मा बीएमओ रत्ती:-
बायो मेडिकल वेस्ट को खुले में फेकने का निर्णय बहुत ही गलत है।  व्यवस्था करके इस वेस्ट को उचित स्थान पर पहुंचाया जाएगा ताकि लोग स्वस्थ और सुरक्षित रह सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!