ऊना

टकारला में बनेगा पोल्ट्री ट्रेनिंग केन्द्र, धंदड़ी में पशुचारा मिल: वीरेन्द्र कंवर

बरनोह, डंगेड़ा, रैंसरी सड़क के निर्माण पर खर्च हो रहे साढ़े चार करोड़

(ऊना)ललित ठाकुर

ग्रामीण विकास पंचायती राज, कृषि, मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा है कि टकारला में सेंट्रल पोल्ट्री डेवलेपमेंट आथोरिटी प्रशिक्षण केन्द्र खोला जा रहा है जो चण्डीगढ़ से यहां शिफ्ट होगा जबकि धंदड़ी में पशुचारा मिल स्थापित की जा रही है। यह बात उन्होंने रैंसरी में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए दी।


अपने संबोधन में कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र को पशुपालन हब रूप में विकसित किया जा रहा है। बसाल में 50 करोड़ रूपये की लागत से डेयरी उत्कृष्टा केन्द्र स्थापित किया जा रहा है। इसके अलावा डंगेहड़ा में 8.50 करोड़ रूपये की लागत से मुर्राह प्रजनन फार्म तथा 5 करोड़ की लागत से बरनोह पशुपालन विभाग का जोनल अस्पताल खोला जा रहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 4 फरवरी को इनके शिलान्यास किये हैं तथा निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि पशुपालन विभाग में 38 करोड़ रूपये पशु औषधालय व चिकित्सालय बनाने पर खर्च किये हैं जिनमें से 19 करोड़ रूपये जिला ऊना में व्यय किये गये हैं।

पशुपालन मंत्री ने कहा कि जिला ऊना में पशुपालन विभाग की परियोजओं को समयबद्ध पूरा करने के निर्देश दिये गये हैं और उनके कार्यकाल में इन सभी परियोजनाओ के उद्घाटन किये जाएंगे। वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि पशुपालन विभाग के अतिरिक्त भी कुटलैहड़ में बुनियादी सुविधाओं को सुदृढ़ किया जा रहा है। 150-150 करोड़ रूपये पीने के पानी तथा सड़क सुविधाओं के विकास पर खर्च हो रहे हैं। थानाकलां में 50 बिस्तर का अस्पताल निर्माणाधीन है, साथ ही 8.5 करोड़ रूपये की लागत से ग्रामीण आजीविका केन्द्र का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है।

इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल शर्मा, मण्डलाध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल, जिला परिषद् उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा, थानांकलां ग्राम पंचायत प्रधान सरोज, उपप्रधान ओम प्रकाश, रामसिंह, बलवन्त वर्मा, रैंसरी पंचायत की प्रधान बलविन्दर कौर, उपप्रधान दिलजीत सिंह, पूर्व प्रधान परस राम, एससी मोर्चा के परस राम, भाजपा उपाध्यक्ष मोनिका कपिल, एक्सियन एचपीएसआईडीसी दिनकर शर्मा, बीडीओ रमनवीर चैहान, उपनिदेशक पशुपालन डाॅ. जयसिंह सेन, नायब तहसीलदार डीपी नेगी, दुसाल के प्रधान कमल चैधरी, जिला परिषद् सदस्य नरेश भुल्लर, सुरेश बांका, डा. राकेश भट्टी, रिटायर्ड उपनिदेशक डज्ञॅ. परेश कौशल, पनोह के प्रधान कमलेश कुमार, उपप्रधान राकेश कुमार, पंचायत समिति सदस्य रमेश सैणी, पूर्व प्रधान गुरदयाल गिल, बटूही की प्रधान रानी गिल, डाॅ. उपेन्द्र, तिलक राज, तारा चन्द, सुशमा, कविता, राजकुमार सैणी, तिलक राज सैणी, रविन्द्रा कुमारी व विमला देवी उपस्थित रहे।

पंचायतों में बरकार रखेंगे विकास की गति

ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि पिछले तीन साल में पंचायतों में जिस गति से विकास कार्य हुए हैं उन्हें बरकरार रखा जाएगा। पंचायतों के पास विकास कार्याें के लिए धन का कोई अभाव नहीं है तथा नई पंचायतों को साल में पांच बड़े काम करने का लक्ष्य दिया गया है। ये सभी कार्य पांच लाख रूपये से अधिक धनराशि खर्च कर किये जाएंगे तथा जिलाधीश को नियमित रूप से समीक्षा करने के निर्देश दिये गये हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!