मंडी

जोगिंदर नगर विधानसभा क्षेत्र में जल शक्ति विभाग की कार्यप्रणाली से प्रताड़ित हो रहे रणा रोपा, ब्यूह व नोहली क्षेत्र के लोग : राकेश चौहान

(जोगिंदर नगर)क्रांति सूद

हिमाचल प्रदेश में भाजपा एवं जयराम सरकार के नेतृत्व पर हर क्षेत्र की जनता ने प्रशन चिन्ह लगाना शुरू कर दिया है।आज पूरे प्रदेश के साथ-साथ हर क्षेत्र की जनता मूलभूत सुविधाओं से वंचित हो रही है और क्षेत्र की जनता विभागीय कार्य प्रणालियों के ऊपर प्रश्नचिन्ह लगाती जा रही है, लेकिन जयराम सरकार गहरी नींद से सोई हुई है। यह बात हिमाचल प्रदेश कांग्रेस पार्टी सचिव राकेश चौहान ने जारी ब्यान में कही। उन्होंने कहा कि जोगिंदर नगर विधानसभा क्षेत्र में जल शक्ति विभाग की कार्यप्रणाली से रणा रोपा, ब्यूह व नोहली क्षेत्र के लोग प्रताड़ित हो रहे हैं।

यहां के क्षेत्रवासियों के द्वारा लगातार पानी की समस्या के चलते विभाग को भी अवगत करवाते हुए आ रहे हैं। आज भी पेयजल योजना बुरी तरह बाधित है क्षेत्र के लोग पानी के लिए त्राहि त्राहि मचा रहे लेकिन विभाग क्षेत्र वासियों की इस समस्या को नजर अंदाज कर रहा है पिछले लगभग दो सप्ताह से पीने के पानी की सप्लाई की लाइने टूटी हुई हे लेकिन विभाग उस सप्लाई को भी सुचारु रुप से चलाने में अभी तक नाकाम होता जा रहा है। क्षेत्र वासियों ने व्यक्तिगत तौर पर भी अनगिनत विभागीय शिकायते सरकार की ई ,समाधान और 1100 नंबर पर अपनी समस्याओं से जयराम सरकार को अवगत कराने का प्रयास किया था परन्तु उससे भी क्षेत्र वासियों को निराशा ही हाथ लगी कोई भी समाधान नही हुआ। अब क्षेत्रवासियों का विश्वास भी सरकार की इस ई समाधान और 1100 नम्बर से उठ चुका है। सरकार के द्वारा चलाए गए जन मंच के माध्यम से पिछले तीन वर्षों से क्षेत्रवासी इस क्षेत्र की पूर्व सरकार से चली आ रही इन योजनाओं को पूरा करने के लिए और उसका समाधान के लिए क्षेत्र की समस्यों को रखा था जिसमें मुख्य रूप से छपरोट से व्यहू ,नोहली के लिए लगभग एक करोड़ की योजना ,जो कागजों में गायब हो चुकी है। कहीं टैंक बने कुछ जगह पाइप में बिछी,लेकिन एक बूंद पानी की भी उसमें विभाग नहीं डाल पाया। इसमें बहुत बड़ा विभागीय घोटाला होने की शंका है, जिसकी क्षेत्रवासियों ने जांच कि मांग की है।

उन्होंने कहा कि एक और योजना राणा खड़ से उठाओ पेयजल योजना 2009-10 में पूर्व कांग्रेस सरकार के समय की योजना जो बन कर तैयार थी विभाग उसे भी सुचारु रुप से चलाने में भी नाकाम हुआ है, एक ओर पेजल योजना, हार , धार बटधार जो लगभग एक करोड़ रुपए की ,पूर्व कांग्रेस सरकार के वक्त की थी लेकिन वह भी कागजों में ही गायब हो चुकी है ,उसी तरह पिंजौर स्कीम जो लगभग 13 करोड़ की योजना जिसमें एक सेक्टर नोहली पंचायत को भी जोड़ गया था लेकिन वो भी विभागीय कार्यप्रणाली का शिकार हो गई , एक और योजना वृक्ष के नाम से वर्तमान सरकार ने घोषणा की उसमे राणा रोपा को भी शामिल किया है। उसके शिलान्यास को दो वर्ष हो गए अभी एक ईंट तक नही लग पाई । अपने को जय राम सरकार में सबसे शक्तिशाली मंत्री बताने वाले, जलशक्ति विभागीय मंत्री ठाकुर महेंद्र सिंह को चाहिए कि मात्र धर्मपुर के मंत्री बन कर मत रहिए अन्य विधानसभा क्षेत्र की जन समस्याओं को भी ध्यान दें अन्यथा लोग अपनी समस्या से तंग आकर आपका और आपकी सरकार का दरवाजा खटखटा ने में पीछे नहीं हटेगी ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!