पंचायत प्रतिनिधियों ने समझा टास्क फोर्स का दायित्व

 

एसडीएम डाॅ निधि पटेल ने बैठक आयोजित कर दी विस्तृत जानकारी

(ऊना)ललित ठाकुर

 

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पंचायत स्तर पर गठित की जाने वाली टास्क फोर्स के सफल कार्यान्वयन को लेकर आज एसडीएम ऊना डाॅ निधि पटेल ने उपमंडल ऊना के प्रधानों व पंचायत सचिवों के साथ बैठक की। बैठक में बीडीओ ऊना रमनवीर सिंह चैहान भी उपस्थित रहे।

इस अवसर पर एसडीएम डाॅ निधि पटेल ने बताया कि उपमंडल के तहत कई पंचायतों में टास्क फोर्स का गठन कर लिया गया है और शेष पंचायतों में यह कार्य शीघ्र ही पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पंचायत स्तर के अलावा वार्ड स्तर पर भी टास्क फोर्स गठित की जाएगी।

डाॅ निधि पटेल ने बताया कि पंचायत स्तर की टास्क फोर्स द्वारा कोरोना जैसे लक्षणों वाले व्यक्तियों को चिन्हित किया जाएगा और सर्दी, खांसी, बुखार व सांस की दिक्कत वाले व्यक्तियों की पहचान करके स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय स्थापित करके उनका कोरोना टेस्ट करवाने का दायित्व होगा।

 

इसके अलावा अन्य राज्यों से लौटने वाले व्यक्तियों को क्वारंटीन करवाना, होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की निगरानी करना भी टास्क फोर्स का दायित्व होगा। इसके अलावा कोविड अनुरूप व्यवहार की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए लोगों को मास्क पहनने, सामाजिक दूरी, हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग सहित सामाजिक, सांस्कृतिक व धार्मिक आयोजनों पर प्रतिबंध से संबंधित आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करवाने की जिम्मेदारी भी टास्क फोर्स की होगी।

इस दौरान कोविड सैंपलिंग को लेकर भी पंचायत प्रतिनिधियों के साथ चर्चा की गई। एसडीएम ने बताया कि पंचायत स्तर पर अधिक से अधिक कोविड टेस्ट/सैंपलिंग के लिए विशेष कदम उठाए जाएगे। इसके लिए रोस्टर तैयार किया जाएगा और प्रत्येक परिवार से कम से कम एक सदस्य का कोविड टेस्ट करवाना सुनिश्चित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि वार्ड स्तर पर गठित टास्क फोर्स के सदस्य अपने वार्ड में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पंचायत स्तरीय टास्क फोर्स की भंांति निगरानी का कार्य करेंगे और सभी प्रकार के दिशानिर्देशों की स्थानीय निवासियों द्वारा अनुपालना करना सुनिश्चित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!