धुन्धन के तीन ग्रामो में पानी के लिए हाहाकार

अर्की विधायक वीरभद्र ने राजेन्द्र ठाकुर प्रदेश सचिव व रूप सिंह ठाकुर ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष के जरिये पहुचाया पानी का टैंकर 

 

(अर्की)कृष्ण रघुवंशी

अर्की विधानसभा क्षेत्र में करोड़ो की लागत से बनी गम्बर खड्ड से उठाऊ पेयजल योजना के बावजूद आज भी कुछ ग्राम के निवासी पानी के लिए तरस रहे है। जिन्हें सप्ताह में दो दिन केवल दस से पंद्रह लीटर पानी प्राप्त होता है। लेकिन जलशक्ति विभाग को इस बात की कोई चिंता नही है।
यह कहना है दिनेश गौर पूर्व सोलन सोशल मीडिया संयोजक का। दिनेश गौर ने प्रेस नोट जारी करते हुए बताया कि ग्राम पंचायत धुन्धन के ग्राम बेमु, करयारड व चन्याडी में लगभग एक माह से पेयजल की भारी समस्या चली हुई है। जबकि आस पास के अन्य ग्रामो में कोई समस्या नही है।

उनका कहना है कि विभाग को मौखिक व लिखित तौर पर कई बार समस्या के बारे में सूचित किया गया है । लेकिन सरकार व विभाग को इस बारे में कोई चिंता नही है। उन्होंने बताया कि इन गांवों में पानी की समस्या सप्लाई टैंकों से आधा इंच की पाइपो के द्वारा पानी सप्लाई करना है। हालांकि जब भी इस समस्या के बारे जलशक्ति विभाग के कर्मचारियों से बात की गई तो उनका जवाब होता है कि पानी पूरी तौर पर लिफ्ट नही होता है इस कारण सप्लाई की समस्या है। दिनेश ने बताया कि जब सरकार व विभाग के द्वारा कोई सुनवाई नही की गई व पानी के लिए हाहाकार मचा लोग व पशु पानी के बिना तड़फने लगे। तब उनकी अगुवाई में एक प्रतिनिधि मंडल अर्की विधायक व पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से मिला एवम अपनी जल समस्या के बारे में गुहार लगाई।

अर्की विधायक वीरभद्र सिंह ने समस्या सुनते ही प्रदेश कांग्रेस सचिव राजेन्द्र ठाकुर व रूपसिंह ठाकुर अध्यक्ष कांग्रेस कमेटी अर्की को समस्या तुरन्त हल करने को कहा जिस पर राजेन्द्र ठाकुर ने तुरन्त इन ग्रामो के लिए निजी पानी के टैंकर भेजने शुरू कर दिए जिससे लोगो की पानी की समस्या कुछ समय के लिए समाधान हो सका। उन्होंने सरकार व विभाग से मांग की है कि वह शीघ्र इस समस्या का समाधान निकाले। साथ ही समस्या ग्रसित ग्रामो के लोगो ने पूर्व मुख्यमंत्री व अर्की विधायक वीरभद्र सिंह व राजेन्द्र ठाकुर सचिव प्रदेश कांग्रेस कमेटी का लोगो को पानी पहुचाने पर धन्यावाद किया है।

 

कंचन शर्मा (अधिशासी अभियंता जल शक्ति विभाग अर्की) का कहना है कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है की टैंकरों के माध्यम से पानी लाया जा रहा है, अगर ऐसी समस्या आ रही है तो इसका जल्द से जल्द समाधान कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!