अब पंचायत से लेकर संसद तक गूंजेगा पुरानी पेंशन का मुद्दा : सयुंक्त मोर्चा हि० प्र०

स्वतंत्र हिमाचल

(पालमपुर)ब्यूरो

पेंशन बहाली सयुंक्त मोर्चा हिमाचल प्रदेश की प्रदेश कार्यकारणी ने आनलाइन मीटिंग कर यह प्रस्ताव रखा है कि पंचायत से लेकर संसद तक अब सभी उम्मीदवार एनपीएस कर्मचारियों को समर्थन पत्र दें कि पुरानी पेंशन बहाली के लिए एनपीएस कर्मियों का साथ देंगे ।

 

सयुंक्त मोर्चा के प्रदेश प्रभारी एल डी चौहान व राज्य अध्यक्ष प्रवीण कुमार ने जारी बयान में कहा कि अब पेंशन बहाली का मुद्दा पंचायत से संसद तक गूंजेगा । आगामी पंचायत के चुनावों में प्रधान से लेकर वार्डपंच तक के उम्मीदवारों को एनपीएस कर्मियों का समर्थन तभी मिलेगा जब वे लिखित में पुरानी पेंशन का समर्थन करेंगे और इसके लिए प्रदेश पेंशन बहाली सयुंक्त मोर्चा पंचायत के हर उम्मीदवार को ज्ञापन सौंपेगा और लिखित समर्थन की मांग करेगा ।

 

कहा कि पूरे प्रदेश की हर पंचायत में कर्मचारी भी रहते हैं और उनका भी ग्राम पंचायत के चुनावों में योगदान रहता है । इसलिए इस बार उसी को प्रधान या वार्ड मेम्बर का पद मिलेगा जो प्रत्याशी लिखित में कर्मचारियों की पुरानी पेंशन का समर्थन करेगा और भविष्य में पुरानी पेंशन बहाली के लिए अपना योगदान करेगा । चुनी गई हर पंचायत की अपने पंचायत क्षेत्र की तरक्की में अहम भूमिका होती है । और इसमे कर्मचारी भी भरपूर सहयोग करते हैं तो फिर हर पंचायत का भी यह दायित्व बनता है कि वे अपनी पंचायत में बसने वाले कर्मचारियों की बात भी रखें । इसके लिए पेंशन बहाली सयुंक्त मोर्चा पंचायत के हर उम्मीदवार को ज्ञापन सौंपेगा और लिखित समर्थन की बात करेगा ।साथ ही कहा कि सभी एनपीएस कर्मी अपनी पंचायतों व नगर निगमों में चुनावों के दौरान पहले उम्मीदवारों से अपने जायज हक पेंशन के लिए लिखित समर्थन की मांग करें ।

प्रवीण कुमार ने कहा कि हमें ,हमारे जायज हक से बंचित किया गया है । तो फिर हमारा भी कर्तव्य बनता है कि इस अन्याय के खिलाफ हमारी आवाज पंचायत चुनावों से लेकर संसद के चुनावों तक गूंजे ।

प्रवीण कुमार ,अध्यक्ष

हर चुनाव में ,हर कर्मचारी की अहम भूमिका रहती है । परन्तु  कर्मचारी के साथ हुए अन्याय के बारे में कोई नही सोचता । हिमाचल प्रदेश की दो पंचायतो को छोड़कर किसी भी पंचायत के मुखिया ने आज तक कर्मचारियों की पेंशन पर कोई बात नही रखी । परन्तु इस बार के चुनावों में हर प्रत्याशी को पेंशन के मुद्दे पर समर्थन पत्र देना होगा । तभी एनपीएस कर्मी भी समर्थन करेंगे ।

 

प्रदेश प्रभारी, एल डी चौहान

पंचायत चुनावों के दौरान प्रधान पद के उम्मीदवार से लेकर वार्ड सदस्य तक सभी को पेंशन बहाली के लिए सयुंक्त मोर्चा ज्ञापन सौपेगा । और उसी प्रत्याशी को समर्थन मिलेगा जो पेंशन बहाली के लिए एनपीएस कर्मियों का साथ देगा । कर्मचारियों के जायज हक की बात अब पंचायत से संसद  तक गूंजेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!