महिला मण्डलों का सम्मान नहीं बल्कि मंत्री पुत्र का किया जा रहा चुनाव प्रचार

 

सहारा फॉउंडेशन में ठेकेदारों व कम्पनियों से ज़बरन दिलाया जा रहा है पैसा

संस्था के आय-व्यय की सरकार से माकपा ने माँगी जांच

(सरकाघाट )रितेश चौहान

भराड़ी-सजाओपीपलु में सहारा फॉउंडेशन के अध्यक्ष व जलशक्ति मंत्री के बेटे ने पांच पंचायतों के महिला मण्डलों का सम्मान समारोह आयोजित किया। इस कार्यक्रम में सहारा फ़ाउंडेशन की और से नगद पैसा और महिलाओं को गद्दे बाँटे गए l पूर्व ज़िला परिषद सदस्य भूपेंद्र सिंह ने कहा कि जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह के बेटे रजत ठाकुर के नेतृत्व में बनाई गई गैर सरकारी संस्था सहारा फॉउंडेशन पिछले एक माह से धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के सभी महिला मण्डलों को पांच पांच गद्दे बांट रही है और सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों के लिए नगद राशी बांट रही है।

यही नहीं इन समारोहों में किविन्टलों के हिसाब से फूल मालाएँ चंडीगढ़ से मंगवाई गयी है जिन्हें मंत्री के बेटे को पहना कर उनके साथ हमेशा चलने वाली ठेकेदारों की टीम मंत्री पुत्र को कंधे पर उठाकर उसके जिन्दावाद के नारे लगाती है और उसे अगला विधायक बनाने की अपील महिलाओं से करती है।माकपा नेता और पूर्व ज़िला पार्षद भूपेंद्र सिंह ने बताया कि इस संस्था द्धारा पहला कार्यक्रम संधोल में आयोजित किया था जहां महेंद्र सिंह के बाद रजत ठाकुर को विधायक बनाने के नारे लगना शुरू हुए थे और फ़िर वही सिलसिला आगे भी चल रहा है।इससे सपष्ट है कि ये सब मंत्री की सहमति और उनकी योजना के तहत ही हो रहा है। महिला मण्डलों को सम्मानित करने के बहाने मंत्री के बेटे का राजनैतिक प्रचार किया जा रहा है जिससे ये भी साफ़ साफ़ पता चल रहा है कि अगर कहीं बेटे को भाजपा से टिकट न मिला तो उन्हें किसी दूसरे दल या निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में भी जलशक्ति मंत्री अपने बेटे को चुनाव मैदान में उतार सकते हैं।उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि मंत्री के बेटे के प्रचार के लिए भोली भाली महिलाओं को ग़ुमराह किया जा रहा है और वे कुछ ईनाम मिलने की उम्मीद में इन समारोहों में जा रही हैं।लेक़िन वहाँ पर मंत्री के बेटे को अगला उमीदवार प्रोजेक्ट किया जा रहा है।

भूपेंद्र सिंह ने आरोप लगाया है कि सहारा फॉउंडेशन संस्था उन्होंने इस लिए बनाई है ताकि धर्मपुर के सैंकड़ों ठेकेदारों और यहां निर्माण का काम कर रही कम्पनियों से जो उगाही होती है उसे इस संस्था में चंदा दिखा कर रानीतिक गतिविधियों में इस्तेमाल किया जा सके।भूपेंद्र सिंह ने यह भी मांग की है कि इस संस्था की आमदनी और ख़र्चे को सार्वजनिक किया जाये और वे गैर सरकारी संस्था के नाम से महिलाओं को इकठ्ठा करके कैसे राजनीति कर रहे हैं इसकी जांच करवाई जाए।उन्होंने आरोप लगाया है कि जलशक्ति मंत्री ने अपने बेटे को अपना उत्तराधिकारी बनाने के लिए जनता में प्रचार प्रसार करने का ये नया तरीका अपनाया है।इन सभी समारोहों में भाजपा बूथ कमेटियां और आई टी सैल मंत्री पुत्र के प्रचार में लगा हुआ है।इस प्रकार ये महिला सम्मान समारोह कम और मंत्री के बेटे के प्रचार समारोह ज्यादा हैं जिन पर रोक लगनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!