चाटी में सीपीएम एरिया कमेटी रामपुर की बैठक हुई आयोजित

स्वतंत्र हिमाचल
(आनी) विनय गोस्वामी

 

सी.पी.एम. एरिया कमेटी रामपुर की बैठक मंगलबार क़ो चाटी कार्यालय में आयोजित हुई। इस बैठक में सी.पी.एम. राज्य सचिव डॉ ओंकार शाद मौजूद रहे। बैठक में उपस्थित सदस्यों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज के समय में केंद्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों से आम जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने मजदूरों की सामाजिक सुरक्षा के लिए बनाए गए 44 प्रकार के श्रम कानूनों को खत्म कर पूंजीपतियों को फ़ायदा पहुंचाने के लिये चार श्रम संहिताओं में बदलकर मजदूरों के अधिकारों को छीनने का काम किया है।वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार द्वारा तीन किसान विरोधी कृषि कानून लाये गए जिसके खिलाफ पूरे देश मे विरोध प्रदर्शन हुए और दिल्ली में एक साल से ज्यादा किसान धरने पर बैठे रहे और केंद्र की सरकार को ये तीनों कृषि कानून वापिस लेने पड़े।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा मनरेगा के बजट में कटौती कर मनरेगा कानून को कमजोर किया जा रहा है बजट के अभाव में ग्रामीण क्षेत्रों मे ना तो पूरा रोजगार मिलेगा और ना ही मजदूरी समय पर मिलेगी।जिससे कि जो मनरेगा में काम करने वालों पर आर्थिक बोझ पढ़ेगा। सी.पी.एम. एरिया कमेटी के सचिव देवकी नंद ने कहा कि प्रदेश जनविरोधी नीतियों से आज प्रदेश मे मंहगाई आसमान छू रही है खाद्य वस्तुओं के अलावा सीमेंट,सरिया,खाद,व दवाइयों के दाम में कई गुणा वृद्धि होने से आम जनता को अपने परिवार का पालन पोषण करना मुश्किल हो रहा है।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की आय को दोगुना करने का वायदा किया था लेकिन किसानों की आय दोगुना तो नहीं हुई परंतु मंहगाई दोगुना जरूर हुई है। उन्होनें कहा कि 28 व 29 मार्च को ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर होने वाली दो दिवसीय हड़ताल का समर्थन करती है जिसको सफल बनाने के लिये सभी कमेटियों की बैठकें की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!