300 फुट गहरी खाई में फिसले बुजुर्ग को स्थानीय युवकों ने सुरक्षित बचाया

 

 

स्वतंत्र हिमाचल
(संधोल) अनिल

जाको राखे साइयां, मार सके न कोई यह कहावत आज जिला मंडी के संधोल में एक बार फिर चरितार्थ हो गई जब शनिवार सांय को स्थानीय वरिष्ठ नागरिक दूनी चंद चौहान उम्र 75 वर्ष , साईं मन्दिर टकरेड के समीप माथा टेकने गए।

 

पीड़ित के अनुसार सांय करीब साढ़े छः बजे जब वे सैर करते हुए पेट्रोल पंप के समीप साईं मन्दिर में माथा टेकने गए तो माथा टेकने के बाद वे वही निर्माणाधीन कमरे को देख रहे थे कि अचानक उनका पैर फिसला और वे वहां से करीब 300 फ़ीट नीचे खाई में लुढ़क गए। गनीमत रही कि पीड़ित बीच में झाड़ियों में फंस गए क्योंकि वहीं नीचे व्यास नदी का किनारा है, अगर ये यहां नही फंसते तो इनकी मौत हो सकती थी।

रात को उक्त स्थान एकांत होने के कारण किसी ने इन्हें कहराते हुए भी नही सुना। होंसला कर पीड़ित ने भी खाई से ऊपर आने की बहुत कोशिश की लेकिन खाई बहुत ही गहरी और कठिन थी जिस वजह से पीड़ित रात भर ठंड में वहीं फंसा रहा। सुबह जब मन्दिर में कुछ स्थानीय लोग पहुंचे तो उन्होंने पीड़ित की कहराने की आवाज़ सुनी ।

आनन फानन में पुलिस व अन्य ग्रामीणों को सूचित किया गया जिसमें बलयाली गांव के स्थानीय युवकों गगन, अनूप, शुभम, ईसान, दलेर इत्यादि ने खाई में बहादुरी का परिचय देते हुए रस्से के सहारे नीचे उतर कर पीड़ित को बचाया और तुरंत स्थानीय अस्पताल पहुंचाया इस दौरान पुलिस के जवान भी प्रभारी बलजीत सिंह के साथ मौके पर पहुंच चुके थे। स्थानीय अस्पताल में पीड़ित की स्वास्थ्य जांच कर उपचार दिया जा रहा है । मामले की पुष्टि करते हुए स्थानीय चौकी प्रभारी बलजीत ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है ।
पीड़ित को पूरे शरीर में खरोंचे इत्यादि लगी है लेकिन पीड़ित की हालत अभी खतरे से बाहर है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!