बद्दी

कामगारों को निशुल्क उपलब्ध करवाई जाए कोरोना वैक्सीन : मेला राम चंदेल

प्रदेश की आर्थिक अर्थव्यवस्था की रीढ़ है मजदूर

अगर कामगारों में फैला कोरोना तो सरकार पर प्रशासन को होगी मुश्किल

 

(बद्दी)राकेश ठाकुर

उद्योगों में कार्यरत कामगारों को प्राथमिकता के आधार पर निशुल्क कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करवाई जाए। मजदूर वर्ग के लिए वैक्सीन के एवज में 250 रूपये प्रति व्यक्ति अदा करना मुश्किल है। यह बात भारतीय मजदूर संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मेला राम चंदेल ने बद्दी के मल्होत्रा अस्पताल में वैक्सीन लगवाने के बाद कही। उन्होंने कहा कि बीबीएन में कार्यरत लाखों श्रमिक प्रदेश की आर्थिक अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं। अगर कामगार नहीं होंगे तो उद्योग नहीं चलेंगे और अगर उद्योग नहीं चलेंगे तो प्रदेश को बीबीएन से राजस्व प्राप्त नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ में लाखों की तादात में श्रमिक हैं जिनमें कोरोना फैलाने का खतरा है। अगर यहां कामगारों में कोरोना फैलता है तो प्रशासन और सरकार के समक्ष बड़ी मुश्किल खड़ी हो जाएगी। अधिकतर कामगार तो झुगी झोंपडिय़ों में रहते हैं जिनमें कोरोना को लेकर जागरूकता की कमी है।

अधिकतर कामगार ऐसे हैं जो दिन रात मेहनत करके अपने परिवारों को पाल रहे हैं। अगर यह लोग एक दिन भी काम न करें तो इनके परिवारों के समक्ष रोटी की समस्या खड़ी हो जाती है। ऐसे में इन कामगारों के लिए कोरोना वैक्सीन के 250 रूपये प्रति व्यक्ति अदा करना बहुत की मुश्किल है। उन्होंने केंद्र व प्रदेश सरकार से मांग उठाई है कि गरीब मजदूरों व कामगारों को प्राथमिकता के आधार पर निशुल्क कारोना वैक्सीन उपलब्ध करवाई जाए। ताकि यह कामगार अपना और अपने परिवारों का बचाब कर सकें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!