अर्कीजयनगरसोलन

शिक्षित युवा ही ले जा सकते हैं पंचायत को नई ऊँचाईयो पर

Story Highlights
  • Advocate Joshi Shipra said during the discussion that he is self dependent and has been doing something for the poor since childhood, I have seen my father doing something to the poor since childhood, and giving them books and books for the poor children to study. The school is seen paying fees. I am also doing the same thing. Father taught us that the help of the poor is the true service of God.

(कुनिहार)आर. पी. जोशी


ग्राम पंचायत हाटकोट से शिक्षित ,तेज तरार दुर दृष्टि गोचर ,ईमानदार ,स्पष्ट वक्ता अधिवक्ता जो कई संस्थाओं से जुड़ी हुई व अपना अधिक समय लोगों की समस्याओं को सुलझाने में लगी रहती है ग़रीबों के लिए कुछ न कुछ करतीं रहतीं है ।मन्दबुद्धि,वृद्धाश्रम व अन्य कई संस्थाओं में त्योहारों के समय पर अन्न वस्त्र इत्यादि वितरित करती रहती है ।व जिसने वैश्विक महामारी के दौरान कुनिहार क्षेत्र में जरूरत मन्द लोगों को अन्न वितरित किया व मास्क तक बाँटे व सरकारी विभाग के लोगों को भी जो फ़्रंट लाइन में अपनी सेवाएँ रात दिन दे रहे थे को भी पानी ,जुस व मास्क वितरित किया व जिसे अर्की क्षेत्र के अधिकतर लोग इसे पहचानते व जानते है ।

SHIPRA  JOSHI, JOSHI  SHIPRA ,अधिवक्ता शिपरा जोशी

अधिवक्ता जोशी शिपरा ने चर्चा के दौरान बतलाया के वह आत्म निर्भर है व बचपन से ही ग़रीबों के लिए कुछ करती आ रही हूँ मैंने अपने पिता को बचपन से ही ग़रीबों को कुछ न कुछ करते हुए ,व गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए उन्हें किताबें व स्कूल फ़ीस देने देखा है । मै भी बहीं काम कर रहीं हूँ पिता ने हमें यही सिखाया के ग़रीबों की मदद ही ईश्वर की सच्ची सेवा है ।

बदलते परिवेश को देखते हुए के यूथ को आगे आना चाहिए ,मैंने पंचायत हाटकोट से प्रधान पद पर चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है ।मैं 24*7 घण्टो अपनी पंचायत के लोगों के बीच रहकर उनकी समस्या का समाधान करूँगी ।व हाटकोट पंचायत को विकास की नई ऊँचाईयो पर लेकर जाऊँगी । मैं नया इतिहास लिखना चाहतीं हूँ ।जिसके लिए मुझे हाटकोट पंचायत के सभी लोगों के सहयोग व साथ की ज़रूरत है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!