मंडी

जयराम प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने की बजाए मात्र सिराज के मुख्यमंत्री बन कर रह गए : विक्रमादित्य सिंह

(जोगिंदर नगर)क्रांति सूद

मण्डी जिला में विकास महज सिराज तथा धर्मपुर तक ही सीमीत हो कर रह गया है। सरकार राज्यपाल के अभिभाषण के समय विधान सभा में आंकडे कुछ और पेश करती है जबकि जमीनी हकीकत कुछ और होती है। यह बातें प्रदेश कांग्रेस कमेटी से महासचिव तथा शिमला ग्रामीण विधान सभा चुनाव क्षेत्र के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने सांसद रामस्वरूप के घर परिवार के समक्ष अपनी संवेदनाऐं प्रकट करने से पहले जोगेंद्रनगर में आयोजित प्रैस वार्ता को सम्बोधित करते हुये कही। उन्होनें कहा कि मण्डी नगर निगम के चुनाव में सीएम व सरकार की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

धरातल से जमीन खिसकती देख जयराम अब मंडी के लोगों को समार्ट सीटी का छुनछुना थमा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जयराम खुद को मण्डी का सीएम कहते हैं, लेकिन यह मण्डी के सीएम नही बल्कि सिराज के सीएम बन के रह गये हैं। अब मंडी के लोग इनका चहरा पहचान चुके हैं। उन्होने कहा मेरे पिता प्रदेश के 6 बार सीएम रहे लेकिन कभी भेदभाव की राजनीति नही की लेकिन आज जितनी भी नियुक्तियां हो रही है, उनमें 99 प्रतिशत रोजगार सिराज तथा धर्मपुर के लोगों को मिल रहा है। निगम में चुनावों में डटकर सरकारी मशीनरी का प्रयोग हो रहा है। भाजपा की नियती बन गयी है कि हर चुनाव जैसे मर्जी वैसे जीते जायें फिर इसके लिये चाहे इवीएम मशीनें क्यों नहीं ले जानी पडे,जैसे आसाम में देखने को मिला।

उन्होनें देश में मीडिया के गिरते स्तर पर भी चिंता जाहिर की कहा कि प्रदेश का सौभागय है कि प्रदेश में मीडिया अपनी भूमिका निष्पक्ष तौर पर निभा रहा है। उन्होनें कहा कि कोरोना से निपटने में सरकार विफल रही है स्कूलों को कोरोना की भेंट चढाया जा रहा है। खुद सरकार मेलों में व्यस्त है चुनाव आयोग को दबाया जा रहा है वहीं कोरोना को मजाक बना के रख दिया गया है।

सांसद रामस्वरूप की सदिगध मौत बारे उन्होनें कहा कि वह अपनी संवेदनाऐं परिवार के समक्ष प्रकट करने आये है लेकिन रामस्वरूप शर्मा दो बार के सांसद थे लोग जानना चाहते है कि उनके सांसद ने किन परिस्थितियों मे आत्महत्या की इसकी जांच होनी चाहिऐ ताकि दूध का दूध व पानी का पानी सामने आ सके राजनीति से दूर अगर वह भाजपा में होते तब भी यही बात कहते। इस अवसर पर प्रदेश युवा कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष यदोपति ठाकुर,गुरशरण परमार,लक्की ठाकुर,नगर परिषद की अध्यक्ष ममता कपूर,उपाध्यक्ष अजय धरवाल,सुरेंद्र ठाकुर सहित अन्य काग्रेस के नेता मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!