महंगाई की मार : हिमाचल में रिफाइंड 20, वनस्पति घी 30 रुपये महंगा

 

(शिमला)ब्यूरो

बताया जा रहा है कि रिफाइंड व घी में इस्तेमाल होने वाला पाम आयल इंडोनेशिया और मलेशिया से आता है जबकि सूरजमुखी का तेल यूक्रेन से आता है। निर्धन और मध्यम वर्ग पर महंगाई की मार पड़ी है। ख़बर सुनें विस्तार रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के बीच महंगाई ने भी अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। बाजार में खाद्य तेल रिफाइंड 20 और वनस्पति घी के दाम में 30 रुपये प्रति किलो बढ़ गए हैं। रिफाइंड तेल का एक लीटर का पैक जो पहले 130 रुपये में था, अब नई दरों के बाद 150 में बिक रहा है। वहीं वनस्पति घी का एक किलो का पैक जो 140 से 170 रुपये में बिक रहा है। बताया जा रहा है कि रिफाइंड व घी में इस्तेमाल होने वाला पाम आयल इंडोनेशिया और मलेशिया से आता है जबकि सूरजमुखी का तेल यूक्रेन से आता है। निर्धन और मध्यम वर्ग पर महंगाई की मार पड़ी है। दुकानदारों ने बताया कि दाम में बढ़ोतरी हुई है और नए दाम पर खाद्य वस्तुओं बेची जा रही हैं।

विज्ञापन वेरका का पैकेट बंद दूध आज से दो रुपये महंगा प्रदेश में वेरका कंपनी का पैकेट बंद दूध एक मार्च से दो रुपये महंगा मिलेगा। कंपनी ने आधा लीटर से छह लीटर तक के पैकेट के दामों में दो रुपये का इजाफा किया है। वेरका का स्टैंडर्ड आधा लीटर दूध अब 27 के बजाय 29 रुपये में मिलेगा। टोंड मिल्क 25 के बजाय 27 रुपये, डीटीएम 23 के बजाय 24 रुपये और फुल क्रीम दूध 30 के बजाय 32 रुपये में आधा लीटर मिलेगा। स्टैंडर्ड एक लीटर दूध 55 के बजाय 57 रुपये, फुल क्रीम एक लीटर दूध 61 के बजाय 63 रुपये, स्टैंडर्ड डेढ़ लीटर 80 के बजाय 82 रुपये, स्टैंडर्ड छह लीटर 316 के बजाय 318 रुपये, फुल क्रीम छह लीटर 355 के बजाय 357 रुपये में मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!