ARTICLE

नेतृत्व की करें सही पहचान,तभी देश बनेगा महान

साथियों कहते हैं,नेतृत्व यदि सही हो तो दुनिया की कोई ताकत आपको आपके लक्ष्य से दूर नहीं कर सकती l हमारा नेता हमारा प्रतिबिंब होता है l जो नेता अपनी जिम्मेदारियों को संपूर्ण समर्पण से निभाता है,वह हमेशा विजय पाता है आज मैं बात करने जा रहा हूं,हाल ही में शुरू होने वाले पंचायत चुनावों की l दोस्तों आजकल राजनीति इतनी बढ़ चुकी है कि हमारे पंचायत चुनावों में भी इसने अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं l हमारा संविधान बताता है कि पंचायत में कोई भी राजनीति विशेष चुनाव कभी ना हो l इसलिए हमारे मुखिया के चुनाव के अधिकार को समझते हुए, संविधान निर्माताओं ने पंचायत चुनावों को हमेशा राजनीति से दूर रखा l

दुर्भाग्यवश आज स्थिति बिल्कुल विपरीत है l आज राजनीतिक दलों ने इन चुनावों में भी अपने पैर पसारने शुरू कर दिए हैं l जो की बहुत चिंता का विषय है l नेता और अभिनेता में बहुत फर्क होता है,जब तक हमारा मुखिया नेता होता है, तब तक वह अपने हितों व कर्तव्य को जानता है l पर जब वह अभिनेता बन जाए तो वह उन्हीं हितों व कर्तव्य का हनन करता हुआ नजर आता है l इसलिए हमारा मुखिया नेता होना चाहिए ना कि अभिनेता l दूसरी ओर पंचायत चुनाव में देखा गया है कि गांव व पंचायत के लोगों में इन सभी विषयों के बारे में जानकारी नहीं होती और ना ही वह लोग यह सब सोचते हैं और भावनात्मक प्रतिक्रिया और प्रभाव वश होकर नेता का चुनाव कर लेते हैं l आज की स्थिति को देखते हुए लोगों को अपने नेता के चुनाव करने की पूर्ण जानकारी होना अति आवश्यक है l हमारे नेता के क्या-क्या गुण होने चाहिए, इस पर प्रकाश डालते हुए मैं निम्नलिखित बातों पर आपका ध्यान खींचना चाहता हूं l

हमारा नेता वह होना चाहिए जो :-

1. किसी राजनीतिक पार्टी से संबंध ना रखता हो l हमें उसी व्यक्ति को अपना नेता चुना है जो किसी पार्टी विशेष या दल विशेष से भूत वर्तमान और भविष्य में कभी संबंध ना रखता हो l
2. जो शिक्षित हो यह महत्वपूर्ण पहलू है क्योंकि एक शिक्षित व्यक्ति ही अपने हितों व कर्तव्यों को अच्छी प्रकार समझ कर निर्णय लेता है l
3.जिसे पंचायत व क्षेत्र के भूत वर्तमान व भविष्य का ज्ञान हो l जो अनुभवी हो l जिसे क्षेत्र की जरूरतों व कर्मियों का ज्ञान व चिंता हो l
4. जो किसी जाति विशेष का समर्थन ना करें l देखा गया है कि आजकल गांव में जातिवाद कहीं ना कहीं इन चुनाव को भी प्रभावित करता है, जो कि हमेशा से निंदनीय रहा है l इसलिए हमें चाहिए कि हम उसी का चुनाव करें जो कि जाति विशेष का समर्थन ना करें और किसी में भेदभाव ना करें और हो सके तो इस जातिवाद को खत्म करने का बीड़ा उठाए l
5. जो प्रत्यक्ष नेतृत्व करें l देखा गया है कि कई बार उम्मीदवार की ओर से उसके घर वाले व्यक्ति विशेष नेतृत्व करते हैं , जो कि बहुत गलत है हमेशा देखा गया है कि यदि कोई महिला निर्वाचित होती है तो वह प्रत्यक्ष नेतृत्व नहीं कर पाती और उसका पति या ससुर ही आगे सब काम करता है, जो कि गलत है l इसलिए हमें वही चुनाव करना है, जो खुद सामने आकर नेतृत्व करें l
6 जिसके पास समय हो l देखा गया है कि कई बार प्रधान उपप्रधान व मेंबर अपने कार्य में व्यस्त रहते हैं और उन्हें जनता के लिए समय ही नहीं होता l इसलिए हमारा नेता ऐसा होना चाहिए जिसके पास लोगों के लिए 24 घंटे 7 दिन का समय हो l
7. प्रभावशाली नेतृत्व l प्रभावशाली नेतृत्व हमेशा विजय प्राप्त करता है इसलिए हमें उसी का चुनाव करना है जो हमारी व अपनी बात जनता व उच्च अधिकारियों के सामने प्रभावपूर्ण तरीके से रख सके l
8.जिसमें निर्णय लेने की क्षमता हो, जो समय और स्थिति के हिसाब से उचित व प्रभावशाली निर्णय ले सके l
9. जिसके निर्णय व कार्यों में पारदर्शिता हो l बहुत जरूरी है कि हमारा प्रधान उप प्रधान व वार्ड मेंबर जो भी कार्य करें,जो भी निर्णय लें उसमें पारदर्शिता हो और वह उस निर्णय व कार्य की सही जानकारी लोगों तक पहुंचा सके l
10. जो पंचायत व क्षेत्र को विकास की राह दिखाएं l हमें उसी का चुनाव करना है जो क्षेत्र का शिक्षा,खेल,औद्योगिक,स्वास्थ्य व धार्मिक दृष्टि से सर्वांगीण विकास करना जानता हो l
अतःसाथियों यदि आप इन ऊपर लिखित बिंदुओं का उचित व समय रहते अनुपालन करेंगे तो ही एक अच्छा नेतृत्व आप अपने क्षेत्र में पा सकेंगे और एक विकसित पंचायत का निर्माण कर सकेंगे l इसलिए आगामी पंचायत चुनाव में आप इन सभी बातों का ध्यान रखते हुए उचित चुनाव करें ताकि अगले 5 साल आपको इसका पछतावा ना हो l
धन्यवाद
मनोज कुमार
ग्राम पंचायत पट्टा
(जयनगर)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!