हिमकेयर कार्ड बनाने में जिला ऊना प्रदेश में पहले पायदान पर : डीसी


(ऊना)ललित ठाकुर

उपायुक्त ऊना, राघव शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि ऊना जिला में इस वर्ष हिमकेयर कार्ड बनाने वाले व्यक्तियों ने रुची दिखाई है जिसके दृष्टिगत जिला में हिमकेयर कार्ड बनाने वाले व्यक्तियों की 21.95 प्रतिशत वृद्वि दर्ज की गई है जोकि प्रदेश में सबसे अधिक है। उन्होंने बताया कि जिला ऊना में अभी तक 47,563 हिमकेयर कार्ड बन चुके है, जबकि वर्ष 2022 में अब तक 10,440 नए हिमकेयर कार्ड बनाए गए है जोकि प्रदेश में सर्वाधिक हैं।


राघव शर्मा ने बताया कि राज्य सरकार ने 01 जनवरी, 2019 से मुख्यमंत्री हिमाचल हैल्थ केयर योजना-हिमकेयर आरभ्भ की थी। उन्होंने बताया कि अब हिमकेयर कार्ड की नवीनीकरण अवधि भी सरकार ने एक साल से बढ़ाकर तीन साल कर दी है तथा नए परिवारों का पंजीकरण अब पूरा वर्ष तक होता रहेगा। उपायुक्त राघव शर्मा ने बताया कि योजना के अंतर्गत अस्पताल में दाखिल होने पर पांच लाख रूपये तक के निःशुल्क इलाज की सुविधा का प्रावधान है। योजना में सभी तरह की बीमारियों को शामिल किया गया है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में जिला ऊना में 25 अस्पताल इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत हैं। हिमकेयर योजना के तहत परिवार के 5 सदस्य इस सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। हिमकेयर कार्ड बनवाने के लिए सरकार द्वारा प्रीमियम दर तय की गई हैं। उन्होंने बताया कि वह व्यक्ति जो गरीबी रेखा से नीचे, रेहड़ी-फड़ी वाले, मनरेगा के अंतर्गत जिन्होंने पिछले वर्ष 50 दिन या उससे अधिक कार्य किया है,

एकल नारी, 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग, आंगनबाड़ी वर्कर, आंगनबाड़ी सहायिकाएं, आशा वर्कर, मिड-डे वर्कर, दिहाड़ीदार, अंशकालिक वर्कर, अनुबंध कर्मचारी (सरकारी, स्वायत संस्थानों, सोसायटी, बोर्ड एवं निगम के कर्मचारी) और आउटसोर्स कर्मचारी निर्धारित शुल्क देकर लोक मित्र केन्द्र अथवा लाभार्थी विभाग की वेबसाइट पर जाकर स्वयं पंजीकरण-नवीनीकरण कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना के अन्र्तगत बीपीएल परिवारों के व्यक्ति से कोई प्रीमियम नहीं लेने का प्रावधान है।
उपायुक्त राघव शर्मा ने सभी पात्र लाभार्थियों से हिमकेयर कार्ड बनवाने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!