हिमाचल परिवहन मजदूर संघ ने एस डी एम सुंदरनगर को सौंपा ज्ञापन

 

बंगाल चुनाव के पश्चात हुई हिंसा पर जताई अपनी नाराजगी

स्वंतंत्र हिमांचल (नेरचौक) अमन शर्मा

भारतीय मजदूर संघ के अखिल भारतीय अध्यक्ष हिरणमय पंड्या की अध्यक्षता में अखिल भारतीय पदाधिकारियों की एक वर्चुअल बैठक हाल ही में आयोजित की गई थी। इस बैठक में 3 जून 2021 को बंगाल एकजुटता सहयोग दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया था। बैठक में यह कहा गया कि 2, 3 व 4 मई को विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के पश्चात पश्चिम बंगाल में प्रशासन के संरक्षण में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने जिस प्रकार की हिंसा पश्चिम बंगाल में कि वह अत्यंत निंदनीय है। तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गरीबों श्रमिकों, मछुआरों, बुनकरों तथा स्ट्रीट वेंडर्स  को अपनी हिंसा का शिकार बनाया।


दक्षिण 24 परगना जिले व पूर्वी मेदिनीपुर जिले में मछुआरों को उनके गांव से गखदेड दिया गया। राज्य के अनेक हिस्सों में ई-रिक्शा तोड़ दिए गए, हथकरघा बुनकरों के बुनाई के उपकरण नष्ट कर दिए गए, कई जिलों में बीड़ी उद्योगों के मालिकों को धमकाने के बाद बीड़ी श्रमिकों को सामग्री नहीं मिल पा रही है और बागानों में काम करने वाले मजदूरों तक पर भी हमले किए गए। आज लगभग एक महीने के पश्चात भी हालात सामान्य नहीं हुए हैं


हिमाचल परिवहन मजदूर संघ का ये कहना है कि साधारण मजदूर वर्ग पर हमले मानवाधिकारों व मौलिक अधिकारों पर हमला है। अतः हिमाचल परिवहन मजदूर संघ उप मंडलीय अधिकारी सुंदरनगर के माध्यम से तृणमूल कांग्रेस के उन कार्यकर्ताओं के विरुद्ध कारवाही की मांग करता है। इस मौके पर हिमाचल परिवहन मजदूर संघ  के अतिरिक्त महामंत्री कुलदीप ठाकुर, प्रदेश सचिव चमन लाल वर्मा, सुंदरनगर क्षेत्र के प्रधान देवी सिंह, मित्र देव, लेख राज, मनीष कुमार के माध्यम से उप मंडलीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!