अर्की

दाड़लाघाट घाट में देवभूमि क्षत्रिय संगठन व सवर्ण सयुक्त समाज का रोष प्रदर्शन

(अर्की)कृष्ण रघुवंशी

देवभूमि क्षेत्रिय संगठन व स्वर्ण सयुंक्त समाज हिमाचल प्रदेश के सदस्यों ने वीरवार को दाड़लाघाट पुलिस थाने के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया।इस मौके पर हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर भी उपस्थित रहे।इस मौके पर पेट्रोल पंप स्यार से लेकर पुलिस थाना दाड़लाघाट तक संगठन के लोगों ने एक रैली भी निकाली।जिसमें लोगों ने जमकर नारेबाजी की।हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर व देवभूमि क्षेत्रीय संगठन के प्रदेशाध्यक्ष रुमित सिंह ठाकुर ने प्रदर्शन के दौरान कहा कि एक व्यक्ति द्वारा पिछले दिनों स्वर्ण समाज से संबंधित लोगों पर एट्रोसिटी एससी-एसटी एक्ट के झूठे मामले को लेकर पेट्रोल पंप स्यार से लेकर पुलिस थाना दाड़लाघाट तक एक रैली निकाली उसके बाद जमकर प्रदर्शन किया।

उन्होंने कहा कि 17 जनवरी को भराड़ी घाट के क्यारड़ नाले में हुई घटना जिसमें की अनुसूचित जाति के लोगों द्वारा 3 लोगों के ऊपर जानलेवा हमला किया गया था और अनुसूचित जाति के लोगों ने इन व्यक्तियों के खिलाफ झूठे मामले दर्ज करवाये थे,इसी को लेकर आज देवभूमि क्षेत्रीय संगठन व स्वर्ण सयुंक्त समाज हिमाचल प्रदेश के सदस्य पुलिस थाना दाड़लाघाट के बाहर रोष प्रदर्शन कर रहे है।देवभूमि क्षेत्रीय संगठन के प्रदेशाध्यक्ष रुमित सिंह ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में 65 प्रतिशत स्वर्ण समाज की आबादी होते हुए व प्रदेश के राजनीतिक दल व सत्तासीन सरकारों में स्वर्ण समाज के नेताओं के द्वारा आज तक नेतृत्व किया गया है।

 

मुख्यमंत्री पद पर हमेशा स्वर्ण समाज से संबंधित व्यक्ति ने ही प्रदेश का नेतृत्व किया,राजनीतिक दलों द्वारा हमेशा अनुसूचित जाति वर्ग पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक वर्ग के हितों में ही काम किया है,लेकिन इस प्रदेश में रह रही सबसे अधिक आबादी स्वर्ण समाज को हमेशा से हमारे ही राजनीतिक नेताओं द्वारा नजरअंदाज किया गया।स्वर्ण समाज को हमेशा वोट बैंक के लिए प्रयोग किया गया है, उनके हितों के बारे में आज तक किसी नेता ने बात नहीं की।उन्होंने कहा कि किसी राजनीतिक दल ने बात नहीं की,देश में अध्यादेश लाकर एट्रोसिटी एससी एसटी एक्ट जैसा काला कानून स्वर्णों के खिलाफ बनाया गया,जिसमें बिना जांच सीधे एफआईआर दर्ज कर स्वर्ण समाज के परिवार के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट प्रेषित कर दिए जाते हैं,पुलिस प्रशासन द्वारा स्वर्ण समाज के परिवारों को मानसिक तौर व शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया जाता है,लेकिन आज तक किसी राजनीतिक दल ने एट्रोसिटी एससी एसटी एक्ट में संशोधन बारे कभी कोई आवाज नहीं उठाई।उन्होंने कहा कि दाड़लाघाट में हो रहे प्रदर्शन में प्रदेश सरकार व पुलिस थाना दाड़लाघाट के अधिकारियों को चेतावनी दी जा रही है कि स्वर्ण समाज के व्यक्तियों के ऊपर हुई झूठी एफआईआर को रद्द करे नही तो हमें इन झूठी एफआईआर के खिलाफ हमें गिरफ्तार करे।साथ ही अनेकों लोगों के ऊपर हुए झूठे एससी-एसटी में हुए मामलों को रद्द करें।

अगर समय रहते इन मामलों को रद्द नहीं किया गया तो स्वर्ण समाज पीछे नहीं हटेगा।इस दौरान क्यारड़ नाले वाले मामले में स्वर्ण समाज के जिन तीन व्यक्तियों के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज किए गए थे,उक्त व्यक्तियों द्वारा देवभूमि क्षेत्रीय संगठन व स्वर्ण संयुक्त समाज हिमाचल प्रदेश पूर्ण सम्मान के साथ थाने में अपनी गिरफ्तारी दी गई।प्रदेशाध्यक्ष रुमित सिंह ठाकुर ने कहा यदि एक ही पक्ष के खिलाफ पुलिस कार्यवाही करती है और झूठे मामले दर्ज करने वालों के खिलाफ कोई भी कार्यवाही नहीं करती है तो दाड़लाघाट में एक बड़े आंदोलन की खुले मंच से चेतावनी दी जा रही है,जिसकी जिम्मेवारी प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन की होगी।

इस मौके पर हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर,देवभूमि क्षेत्रिय संगठन के प्रदेशाध्यक्ष रुमित सिंह ठाकुर,जयदेव ठाकुर,रोशन ठाकुर,नरेश रेम्बो,जगदीश,चेतराम ठाकुर,नथुराम ठाकुर,नीमचंद ठाकुर,रमेश शर्मा,सोनू ठाकुर,जगत राम,राकेश ठाकुर,धर्मपाल ठाकुर,करतार ठाकुर सहित काफी संख्या में देवभूमि क्षेत्रीय संगठन व स्वर्ण सयुंक्त समाज हिमाचल प्रदेश के सदस्य व अन्य लोग मौजूद रहे।

डीएसपी दाड़लाघाट प्रताप सिंह ठाकुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि जिन व्यक्तियों ने अपनी गिरफ्तारी दी है उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!