पंचायत स्तर पर सभी लोगों की कोविड 19 जांच सुनिश्चित हो : अमित मैहरा

चौंतड़ा ब्लॉक के पंचायत प्रधानों व सचिवों के साथ आयोजित वर्चुअल बैठक में बोले एसडीएम

(जोगिन्दर नगर)क्रांति सूद

उपमंडलाधिकारी नागरिक (एसडीएम) जोगिन्दर नगर अमित मैहरा ने कहा कि पंचायत स्तर पर सभी ग्रामीणों की कोविड 19 जांच सुनिश्चित हो इसके लिए सभी पंचायत प्रतिनिधि पूरी सक्रियता के साथ कार्य करना सुनिश्चित बनाएं। उन्होने कहा कि आने वाले दो सप्ताह के भीतर निर्धारित शैडयूल के तहत चौंतड़ा ब्लॉक की सभी 42 ग्राम पंचायतों में लोगों की कोविड 19 जांच सुनिश्चित बनाई जाएगी ताकि पंचायत के साथ-साथ विकास खंड व उपमंडल को जल्द से जल्द कोरोना संक्रमण मुक्त घोषित किया जा सके। एसडीएम आज बीडीओ कार्यालय चौंतड़ा से वर्चुअल माध्यम से ब्लॉक के सभी पंचायत प्रधानों एवं सचिवों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। इस वर्चुअल बैठक का संचालन बी.डी.ओ. चौंतड़ा विवेक चौहान ने किया।

उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार के साथ-साथ माननीय उच्च न्यायालय के आदेशों की अनुपालना को ध्यान में रखते हुए सभी ग्राम पंचायत प्रतिनिधि पंचायत स्तर पर अधिक से अधिक लोगों की कोविड 19 जांच सुनिश्चित बनाने के लिए पूरी तत्परता व सक्रियता के साथ कार्य करना सुनिश्चित बनाएं। उन्होने कहा कि कोविड 19 जांच को लेकर स्वास्थ्य विभाग की तीन टीमें गठित की गई हैं जो निर्धारित शैडयूल के तहत संबंधित ग्राम पंचायत में कोविड जांच करेंगी। इस दौरान उन्होने सभी पंचायत प्रतिनिधियों से अपना पूरा सहयोग प्रदान करते हुए सभी ग्रामीणों को कोविड जांच के लिए अभिप्रेरित करने का विशेष आग्रह किया।


अमित मैहरा ने कहा कि कोविड 19 संक्रमण की दृष्टि से सरकार द्वारा संबंधित ग्राम पंचायत प्रधान की अध्यक्षता में टॉस्क फोर्स गठित की गई है। उन्होने टास्क फोर्स के सभी सदस्यों से कोविड 19 जांच की दृष्टि से पूरी सक्रियता के साथ भाग लेने का आहवान किया ताकि निर्धारित लक्ष्य की समयबद्ध पूर्ति सुनिश्चित हो सके। साथ ही कहा कि कोविड 19 जांच में सहयोग न करने वाले ग्रामीणों की सूचना प्रशासन को देना सुनिश्चित बनाएं ताकि ऐसे लोगों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कानून कार्रवाई अमल में लाई जा सके। इस बीच उन्होने ग्रामीण स्तर पर स्वयंसेवकों, युवक मंडलों, दुकानदारों इत्यादि की प्राथमिकता के आधार पर कोविड 19 जांच करवाने को भी कहा ताकि इनके संक्रमित पाये जाने पर संक्रमण दूसरे लोगों तक न पहुंच सके।

उन्होने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों की सक्रियता एवं ग्रामीणों की अधिक से अधिक कोविड जांच सुनिश्चित होने से जहां कोरोना संक्रमण को रोकने में मदद मिलेगी तो वहीं कोविड 19 संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के खतरे को भी न केवल कम किया जा सकेगा बल्कि रोकने में भी मदद मिलेगी। उन्होने कहा कि पंचायत के कोरोना संक्रमण मुक्त हो जाने से जहां पंचायत की विभिन्न गतिविधियों को सुचारू तौर पर चलाया जा सकेगा तो वहीं ब्लॉक व उप मडल को भी कोरोना संक्रमण मुक्त बनाने में पंचायतें अपना अहम योगदान दे सकती हैं। साथ ही कहा कि इस संदर्भ में स्वास्थ्य विभाग द्वारा पंचायतों को पूरा सहयोग प्रदान किया जाएगा तथा इस दिशा में टास्क फोर्स के सभी सदस्यों का सहयोग वांछित, अनिवार्य व अपेक्षित है।

इससे पहले वर्चुअल बैठक का संचालन करते हुए खंड विकास अधिकारी चौंतड़ा विवेक चौहान ने कहा कि कोविड 19 की इस लड़ाई में पंचायतों ने अब तक बेहतर कार्य किया है तथा आने वाले समय में भी उनसे ज्यादा बेहतर कार्य करने की उम्मीद जताई। उन्होने सभी पंचायत प्रतिनिधियों से पंचायत स्तर पर कोविड जांच के दौरान ग्रामीणों को जांच केंद्र तक पहुंचाने के लिए पूरा सहयोग प्रदान करने का भी आहवान किया ताकि कोई भी ग्रामीण कोविड 19 जांच से छूट न पाए। उन्होने बताया कि आने वाले 10-15 दिनों में ब्लॉक की सभी 42 ग्राम पंचायतों की कोविड 19 जांच को पूरा कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!