मंडी

भाजपा राज में बिजली, पानी, यात्रा, वाहन पंजीकरण,सीमेंट सब कुछ महंगा : माकपा

दीपावली पर्व पर सौ ग्राम अतिरिक्त चीनी देने का फैसला जनता से भद्दा मजाक

 

स्वतंत्र हिमाचल

( सरकाघाट) रंजना ठाकुर

धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सचिव और ज़िला परिषद सदस्य भूपेंद्र सिंह ने जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली भाजपा की सरकार को महँगाई बढ़ाने वाली सरकार बताया है। जिसने शासन में हिमाचल प्रदेश में लगातार जनता पर बोझ डाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि गत सप्ताह सरकार ने घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए नया मीटर लगाने के लिए सिक्योरटी की राशी तीन गुणा बढ़ा दी है जिसके कारण जो शुल्क पहले 360 रु प्रति किलोवॉट लगता था उसे बढ़ा कर 1158 रु कर दिया गया है। हालांकि किसी भी मकान के लिए एक किलोवॉट से अधिक का ही मीटर लगता है जिसकारण अब उपभोक्ताओं को हज़ारों रुपये मीटर लगाने के लिए देने पड़ेंगे।इसके अलावा सरकार ने वाहनों की रजिस्ट्रेशन फ़ीस में भी तीन गुना बढ़ोतरी कर दी है।

जो फ़ीस पूर्व में अढ़ाई से चार प्रतिशत लगती थी उसे बढ़ाकर छह से लेकर पंद्रह प्रतिशत कर दिया गया है। जयराम सरकार ने निजि बस ऑपरेटरों को फ़ायदा देने के उद्देश्य से बस किरायों में अभी तक पचास प्रतिशत बृद्धि कर दी है लेकिन बाबजूद उसके बहुत सी बसें अभी भी रूटों पर चलती नहीँ है। भाजपा की सरकार ने पानी के बिलों में भी बृद्धि कर दी है जिसके चलते शहरी क्षेत्रों में जहां पानी के मीटर लगे हुए हैं उन्हें 16.78 रु प्रति किलो लीटर बिल अदा करना पड़ रहा है और ग्रामीण क्षेत्रों में भी पांच पांच सौ रुपये वार्षिक बिल इस सरकार ने जारी कर दिये हैं।वहीं धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में कथित जलजीवन मिशन के तहत हर घर को नल कनेक्शन देने का काम जल शक्ति विभाग कर रहा है और उसके बाद सभी को भारी भरकम बिल थमा दिए जायंगे।इसी प्रकार धर्मपुर में जो सिंचाई योजना विभाग ने शुरू की हैं उनसे भी भूमि के अनुसार बिल लिये जाने का योजना विभाग की है।

इसी प्रकार हिमाचल प्रदेश में तैयार होने वाला सीमेंट यहां मंहगा है और सीमावर्ती राज्यों में सस्ता मिलता है।भूपेंद्र सिंह ने कहा कि कहने के लिए तो मुख्यमंत्री एक गरीब मिस्त्री के बेटे हैं लेकिन वे लगातार गरीबों व मध्यम वर्ग के विरोध में फैसले ले रहे हैं।

कोरोना की आड़ में डिपुओं से राशन की मात्रा कम कर दी है और कुछ लोगों का तो राशन भी बन्द कर दिया गया है।एक बहुत ही भद्दा मजाक पिछले कल किया गया जिसमें उन्होंने दीपावली पर्व पर सौ ग्राम चीनी अतिरिक्त देने की घोषणा की है उससे किसी परिवार को त्योहार में बनने वाले पकवानों पर कितनी मिठास बढ़ेगी मुख्यमंत्री ही बताएंगे।जबकि दूसरी तरफ पिछले छह महीने से आलू, प्याज़ व अन्य खाद्य पदार्थों की कीमतें लगातार बढ़ रही है जिसे केंद्र व राज्य सरकारें नियंत्रित करने में पूरी तरह फ़ेल साबित हो रही है।दूसरी तरफ लाखों युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं लेकिन सरकार एक एक मन्त्री को चार चार लग़री गाड़ियां ख़रीद रही हैं और सारा बोझ जनता पर डाला जा रहा है।मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने सरकार से मांग की है कि यूजर्स चार्जिज में की गई बृद्धि वापिस ली जाये और सरकार के मंत्रियों को दी जा रही गाड़ियों पर की जा रही फिजुलखर्ची पर रोक लगाई जाये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!