ऊना

सांस्कृतिक विरासत ही हमारी पहचान: डीसी


पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयंती वर्ष पर जिला स्तरीय लोक नृत्य व वाद्य यंत्र प्रतियोगिता आयोजित

(ऊना)ललित कुमार

भाषा एवं संस्कृति विभाग द्वारा रोटरी चैक के समीप नगर परिषद् पार्किंग में जिला स्तरीय लोक नृत्य एवं लोक वाद्य यंत्र प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। एक दिवसीय इस प्रतियोगिता में उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। लोक नृत्य प्रतियोगिता में जिला 6 दलों तथा वाद्य यंत्र प्रतियोगिता 7 दलों ने भाग लिया।
इस अवसर पर कलाकारों को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने बताया कि यह प्रतियोगिता हिमाचल प्रदेश पूर्ण राज्यत्व स्वर्ण जयन्ती वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित की गई है।

जिला ऊना की लोक संस्कृति से ओत-प्रोत प्रस्तुतियों पर हर्ष व्यक्त करते हुए डीसी ने कहा कि यह गौरव का विषय है कि युवाओं द्वारा आज भी अपनी संास्कृतिक धरोहर को सहेज़ कर रखा है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मण्डली कम से कम 5 बच्चों को अपनी इन पारंपरिक विधाओं को सिखाएं ताकि भविष्य में भी हमारी समृद्ध संस्कृति की पहचान बनी रहे तथा अन्यों को भी प्रेरणा मिलती रहे। उन्होंने युवा पीढ़ी का आहवान करते हुए कहा कि हमारी संास्कृतिक विरासत ही हमारी पहचान है जो हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है और इसे कभी नहीं भुलाया जा सकता है।
जिला भाषा अधिकारी प्रोमिला गुलेरिया ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा संस्कृति संवर्धन एवं संरक्षण के क्षेत्र में विभाग द्वारा आयोजित की जा रही विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी।
उपायुक्त ने विजेता दलों को पुरस्कार भी वितरित किये।
निर्णायक मण्डल में सेवानिवृत्त भंगड़ा प्रशिक्षक प्रितपाल सिंह, चैकीमन्यार कालेज के ललित कला प्रो. संजीव कुमार तथा संयोजक युवा सेवाएं एवं खेल विभाग सुमन लता शामिल थे।

लोक नृत्य प्रतियोगिता में शिक्षा भारती समूरकलां प्रथम
लोक नृत्य प्रतियोगिता में शिक्षा भारती बीएड कालेज समूरकलां ने प्रथम स्थान हासिल किया, जिन्हें 15000 रूपये का ईनाम दिया गया। जबकि दहाजा मंडली जखेड़ा की चमन लाल एण्ड पार्टी को द्वितीय स्थान पर रहने पर 12000 रूपये और आर्य पब्लिक स्कूल बंगाणा को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर 10000 रूपये पुरस्कार स्वरूप प्रदान किये गये।

वाद्य यंत्र प्रतियोगिता में कांसी राम एण्ड पार्टी नम्बर वन
वाद्य यंत्र प्रतियोगिता में कांसी राम एण्ड पार्टी ने नम्बर वन रही उन्हें 11000 रूपये का पुरस्कार दिया गया, जबकि तिलक राज एण्ड पार्टी को द्वितीय स्थान हासिल करने पर 9000 रूपये तथा अनिल कुमार एण्ड पार्टी ने तृतीय स्थान पर रही जिसे 7000 रूपये इनाम राशि दी गई।


इस मौके पर जिला समन्वयक नेहरू युवा केन्द्र डाॅ. लाल सिंह, वरिष्ठ साहित्यकार राणा शमशेर सिंह, सहायक सूचना अधिकारी रवि कुमार, शिक्षा विभाग से सेवानिवृत्त ओम प्रकाश, पर्यवेक्षक भाषा एवं संस्कृति विभाग के पवन कुमार सहित कलाकार व स्थानीय जनता उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!