नालागढ़

नालागढ़ के डा. रणवीर बने शिमला विवि में सहायक प्रोफैसर

(नालागढ) ऋषभ शर्मा

नालागढ उपमंडल के डा. रणवीर शिमला विवि में सहायक प्रोफैसर पद पर चयनित हुए हैं। वो शिमला विवि के यूनिवर्सिटी कालेज आफ बिजनेस स्टडीस विभाग संभालेंगे। उन्होने मैनेजमेंट साईंस में पीएचडी (एमबीए मार्केटिंग एंड हयूमन रिसोर्स मैनेजमेंट) और पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन पर्सनल मैनेजमेंट एंड लेबर वैल्फेयर की हुई है। डा. रणवीर को अध्यापन के क्षेत्र में 13 साल का लंबा अनुभव है और  हिंदुस्तान के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में कार्य किया है।

उनका कार्यक्षेत्र विपणन, मानव संसाधन प्रबंधन और उद्यमिता रहा है। उन्होने अपने जीवन में 25 से ज्यादा शोध पत्र प्रकाशित किये हैं। इसके अलावा मेधावी व मेहनती डा. रणवीर ने व्यवसाय प्रबंधन पर तीन किताबें लिखी हैं जो कि व्यापार जगत  में काफी लोकप्रिय हुई हैं। डा. रणवीर की इन्ही उपलब्धियों के कारण वह देश विदेश की कई ख्याति प्राप्ति पत्रिकाओं में सहायक संपादक, सदस्य/समीक्षक रहे हैं। इसके अलावा उन्होने 50 से ज्यादा सैमीनार/वैवीनार, शार्ट टर्म कोर्सिस, संकाय विकाय कार्यक्रम देश विदेश में अटेंड किए हैं।

उन्होने अपने विभिन्न विशेषज्ञ लैकचर अलग अलग विजनेस प्रबंधन संस्थानों में भारत में देकर नाम कमाया है। हाल ही में उनकी नियुक्ति शिमला विवि में सहायक प्रेाफैसर के तौर पर हुई है जिससे बीबीएन का नाम एक बार फिर से रोशन हुआ है।
डा. रणवीर ग्राम पंचायत रडियाली के दत्तोवाल के रहने वाले हैं। उनके सहायक प्रोफैसर पर चयन होने पर नालागढ़ के विधायक लखविंद्र राणा, दून के विधायक परमजीत सिंह, पूर्व विधायक के एल ठाकुर व रडियाली की पूर्व प्रधान इंदू ठाकुर ने हर्ष जाहिर किया है और डा. रणवीर की इस उपलब्धि के लिए उनको बधाई दी है। उन्होने कहा कि हमारे क्षेत्र बीबीएन के लिए यह गर्व की बात है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!