कोरोना काल में “उच्च शिक्षा पर कोविड का प्रभाव एवं शिक्षक की भूमिका” पर चर्चा

 

 

स्वंतत्र हिमाचल ( कुल्लू ) जय सिंह

राजकीय फार्मेसी महाविद्यालय रोहड़ू ने एक वेबिनार का आयोजन किया जिसकी थीम “उच्च शिक्षा पर कोविड का प्रभाव- शिक्षक की भूमिका” थी और इसमें राजकीय फार्मेसी महाविद्यालय रोहड़ू, अटल बिहारी वाजपेयी राजकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय प्रगतिनगर, राजकीय बहुतकनीकी महाविद्यालय रोहड़ू व् आई०टी०आई० जुब्बल, चिरगाँव, चौपाल, टिक्कर के शिक्षक गणों ने भाग लिया I इस वेबिनार के मुख्या वक्ता प्रोफेसर डॉ० परमजीत कौर तुलसी थे I प्रो० पी० के० तुलसी को शिक्षा क्षेत्र राष्ट्रीय तकनीकी शिक्षक प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान चंडीगढ़ (निटर) में 34 वर्ष का अनुभव हैं, तथा उन्होंने ग्यारह वर्ष तक शिक्षा विभाग के प्रमुख, तीन वर्ष तक अनुसंधान और विभाग के डीन के रूप में अपनी सेवाएं दी है

प्रो० तुलसी ने 60 से अधिक राष्ट्रीय व् अंतराष्ट्रीय सम्मेलनों में हिस्सा लिया है और वह दो स्वयम मूक्स पाठ्यक्रम एवं 500 से अधिक तकनीकी संकाय विकास कार्यक्रम (ऍफ़०डी०पी०) के समन्वयक रह चुकी है I प्रो० तुलसी ने अपने संबोधन में स्वयं मूक्स के कोर्सेज व् सभी विद्यार्थियों को प्रायौगिक संबंधी विषय को वर्चुअल प्रयोगशाला से समझने के बारे में विस्तृत जानकारी दी और अध्यापक वर्ग को कोरोना महामारी काल में प्रभावी शिक्षण की प्रक्रिया को भी समझाया
इस वेबिनार के संयोजक सहायक आचार्य डॉ० विनीत मेहता थे महाविद्यालय के निदेशक/प्रधानाचार्य प्रोफेसर (डॉ०) विवेक शर्मा ने मुख्य वक्ता का विशेष धन्यवाद किया इस वेबिनार में अटल बिहारी वाजपेयी राजकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय प्रगतिनगर के प्रधानाचार्य  शेष नाथ सिंह, राजकीय बहुतकनीकी महाविद्यालय रोहड़ू के प्रधानाचार्य श्री शशि शर्मा व् आई०टी०आई० जुब्बल  विवेक मेहता व् चिरगाँव के प्रधानाचार्य श्री कार्तिक व् सभी महाविद्यालयों के शिक्षक गण डॉ० धीरज कौशिक,  रविंदर बन्याल,   हरीश कुमार,   रनीव ठाकुर,   प्रियंका नागु,   कुशल बंसल,  विक्रांत आर्या इत्यादि विशेष रूप से मौजूद रहे I

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!