मंडी

एक तरफ विकास तो दूसरी ओर उखाड़ दिए दर्जनों रास्ते व सडकें..

ठेकेदारों द्वारा बर्ती जा रही अनियमितताएं, जनता परेशान

 

 

स्वतंत्र हिमाचल
(संधोल) अनिल

संधोल की क़रीब दर्ज़न भर पंचायतों के हजारों बाशिंदों के विकास के लिए अर्से बाद स्थानीय विधायक व मंत्री एक व्यापक अभियान छेड़ा है जिससे आने वाले समय मे लोंगो को बेहतर सुविधायें मिलेंगी लेकिन करोड़ो रूपये से बन रहे विभिन्न संस्थानों में जुटे ठेकेदारों ने भी जम कर अनियमितताये बरतने के मामले सामने आ रहें हैं लेकिन राजनीतिक रसूख़ के चलते न तो अधिकारी न प्रशासन लोंगो की शिकायतों को तरजीह दे रहा है।आलम ये है कि सिंचाई ओर सीवरेज के काम मे जुटी फर्म ने कई सड़कों को तो खोद ही डाला साथ ही विभिन्न पंचायतों के दर्जनों रास्ते व डंगे भी उखाड़ फेंके हैं।सड़कों में बनाये टैंक आज वाहन चालकों के लिए जंहा परेशानी का सबब बन गए हैं

वहीं कई जगह पास लेने व देने के लिए एक इंच ज़मीन भी नही छोड़ी।घेरकुट से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तक पहले सड़क को दो सप्ताह तक बन्द रखा उसके बाद इसकी बुरी तरह दुर्दशा की अब इसी सड़क को नीचे से मशीन की सहायता से खोद दिया गया है जिसके बाद सड़क का दरकने लाज़िमी है और उम्मीद है कि बरसात में ये बन्द भी हो सकती है।स्थानीय पंचायत के पूर्व प्रधान प्रेम चंद गुलेरिया,प्रताप भनवाल,प्रदीप गोस्वामी,एकता देवी,चेत राम,भाग सिंह,सोहन सिंह भनवाल सहित दर्जन भर ग्रामीणों ने बताया कि पिछले कई महीनों से धूल व उबड़ खाबड़ सड़कों से बेहद परेशान हैं लेकिन न निर्माण विभाग इन्हें ठीक कर रहा है न निर्माण में जुटी फर्म के ठेकेदार इसे सही करने की जहमत उठा रहे हैं।

वंही सिंचाई विभाग के तत्वावधान में बनी रही सिंचाई योजना के निर्माण के बाद नेरी,संधोल,दतवाड, घनाला, व सोहर पंचायतों के अंतर्गत आने वाले रास्ते भी मलियामेट हो गए हैं जंहा हर दिन बाइक सवार कीचड़ में ओंधे मुंह गिर रहें हैं ऐसे में न पंचायतों को मुररमत के लिए कोई फण्ड मिला न फर्म इन्हें ठीक करवा रही है चूंकि अब ये योजनाएं उद्धघाटन के मुहाने पर खडीन हैं ऐसे में लोंगो को कब राहत मिलेगी इसका अंदाज़ा लगाना मुमकीन नही

सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग मढ़ी योगेश कुमार ने बताया कि जहां जहां सड़कों को क्षति पहुंची है लोक निर्माण विभाग उसकी क्षति रिपोर्ट जल शक्ति विभाग को देगा जिसकी भरपाई जल शक्ति विभाग करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!