विश्व गौरैया दिवस पर देव आस्था इंस्टिट्यूट ऑफ एजुकेशन सोसाईटी बालीचौकी में प्रतियोगिता आयोजित

 

नायब तहसीलदार बीआर चंद्रेश रहे मुख्यातिथि

स्वतंत्र हिमाचल
बंजार (प्रेम सागर चौधरी)

गौरैया पक्षी विशेष रूप से आम घर में पाई जाती है, पृथ्वी पर सबसे सर्वव्यापी पक्षियों में से एक है और यह मनुष्य के सबसे पुराने साथियों में से एक है। समय के साथ-साथ यह हमारे साथ हुई है, सौभाग्य से ये अभी भी दुनिया के कई हिस्सों मे बहुतायत में पाई जाती है किंतु वर्तमान समय में गौरैया की जनसंख्या घटती जा रही जो चिंता का विषय बन गया है। जिस उद्देश्य से इस पक्षी के संरक्षण के उद्देश्य से जैव विविधता एवं पर्यावर्णीय स्थिरता संस्था (BEST) समाज में कार्यक्रम के आयोजन के माध्यम से युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित कर रही है। विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से विश्व गौरैया दिवस के उपलक्ष्य पर BEST संस्था के द्वारा देव आस्था इन्सटीट्यूट ऑफ एजुकेशन सोसायटी बालीचौकी के परिसर में भाषण, पेंटिंग, नेस्ट मेकिंग व एम्ब्रॉयडरी प्रतियोगिता करवाई गई, जिसमें देव आस्था इन्सटीट्यूट आफ एजूकेशन सोसाइटी थाची, बालीचौकी व स्थानीय युवाओं ने भाग लिया। इसमें भाषण प्रतियोगिता में हिमानी प्रथम, प्रियंका द्वितीय, मनीषा तृतीया स्थान पर रही। इसके अतिरिक्त नेस्ट मेकिंग मे चंपा प्रथम, मनीषा द्वितीय, रक्षा तृतीया स्थान पर रही तथा वहीं पेंटिंग में कुसुम लता प्रथम, नोक सिंह द्वितीय, नकेश व दूनी चंद ने तृतीया स्थान हासिल किया। गौरैया दिवस के उपलक्ष्य एम्ब्रॉयडरी कंपीटीशन भी रोचक रहा जिसमें ओमी देवी प्रथम, हरी पराशर द्वितीय, झांसी तृतीया स्थान पर रहे।


विशेष गौरैया दिवस के उपल्क्षय पर BEST संस्था की ओर से प्रोग्राम कोर्डिनेटर डाबे राम राणा ने बतौर रिसोर्स पर्सन के रुप में उपस्थित सभी प्रतिभागियों को सम्बोधन करते हूए कहा कि संपूर्ण विश्व में गौरैया दिवस मनाने का औचित्य न केवल एक दिन के लिए कार्यक्रम को स्मरण करना है अपितु इसका उपयोग एक मंच के रूप में करना है ताकि गौरैया के साथ-साथ ग्रामीण व शहरी जैव विविधता के संरक्षण की आवश्यकता को रेखांकित किया जा सके। इस अवसर पर कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि बीआर चंद्रेश नायब तहसीलदार बालीचौकी उपस्थित रहे और उन्होंने विजेता प्रतिभागियों को इनाम भी दिए। इसके अतिरिक्त मोहन पालसरा प्रबंध निदेशक देव आस्था इन्सटीट्यूट ऑफ एजूकेशन सोसायटी बालीचौकी, दिले राम ठाकूर प्रधान ग्राम पंचायत बालीचौकी, सुंदर सिंह फिल्ड एसिस्टेंट, शशी ठाकूर सेंटर इंचार्ज थाची, संस्थान अधिकारी उर्मिला, डिंपल शर्मा, हनिशा ठाकुर, मनीषा कुमारी, ललिता कुमारी सहित अन्य छात्र व छात्राएं भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!