ऊना

भाजपा के दो पार्टों में पिस गया केंद्रीय विश्वविद्यालय : डोगरा

अनुराग के ड्रीम प्रोजेक्ट पर जयराम दे गए गोलमोल जबाव

विश्वविद्यालय की जमीन ट्रांस्फर का राजस्व मंत्री को नहीं ज्ञान

(ऊना)ललित ठाकुर

देहरा में बनने वाला केंद्रीय विश्व विद्यालय हिमाचल भाजपा के दो पार्टों के बीच पिसता हुआ नजर आ रहा है। एक ओर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से सांसद अनुराग ठाकुर इस विश्व विद्यालय को अपना ड्रीम प्रोजेक्ट मान कर चल रहे हैं और दूसरी ओर प्रदेश सरकार इसके रास्ते में रोड़े अटकाती नजर आ रही है। प्रदेश मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और अनुराग ठाकुर ने एक साझा मंच से जिस प्रकार के वक्तवय दिए हैं, उससे तो यही उजागर होता है। यह बात हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता डॉ. विजय डोगरा ने शुक्रवार को जारी बयान में कही।

डॉ. डोगरा ने कहा कि इस विश्व विद्यालय की स्थापना से कांगड़ा के अलावा हिमाचल के अन्य जिलों के लोगों के साथ साथ देश के हजारों नौजवानों को लाभ मिलना है, लेकिन प्रदेश सरकार भूमि के हस्तांतरण को लेकर बार बार रोड़े अटका रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार की विवि निर्माण में कितनी दिलचस्पी है इसका अंदाजा राजस्व मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर के बयान से हो जाता है। राज्य के राजस्व मंत्री का यह कहना कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है, यह दिखाता है कि प्रदेश सरकार विवि के निर्माण के प्रति कितनी गंभीर है। डॉ. डोगरा ने कहा कि साझा मंच पर सांसद अनुराग ठाकुर ने जिस अंदाज में अपनी बात रखी है उससे साफ अंदाजा होता है कि भाजपा में अंदरखाते सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है।

केंद्र में मंत्री होने के बावजूद अनुराग ठाकुर की प्राथमिकताओं को प्रदेश सरकार प्रकार नजरअंदाज कर रही है या फौरी तौर पर दबाने का प्रयास कर रही है यह बात जगजाहिर हो चुकी है। हालात ऐसे हैं कि अनुराग ठाकुर केंद्र में मंत्री होने के बावजूद अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को अंजाम तक पहुंचाने में कामयाब नहीं हो पा रहे। उन्होंने कहा कि प्रदेश भाजपा की अंदरूनी लड़ाई और भाई-भतीजावाद की नीति के चलते प्रदेश का विकास नहीं हो पा रहा।

कांग्रेस पार्टी पर क्षेत्रवाद के आरोप लगाने वाली भाजपा आज स्वयं क्षेत्रवाद और गुटबाजी की खाई में गिरती जा रही है। डोगरा ने कहा कि प्रदेश की जनता इनकी नीतियों को देख और समझ रही है और आने वाले समय में इसका माकूल जबाव भारतीय जनता पार्टी को देने के लिए तैयार बैठी है। उन्होंने भाजपा की प्रदेश लीडरशिप को सलाह दी है कि प्रदेशहित के कार्यों के रास्ते में आपसी गुटबाजी को रोड़ा न बनने दें, अन्यथा प्रदेश की जनता आपको कड़ा सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!