चार सालों में बंजार क्षेत्र को मिली हैं 82 करोड़ की 53 जलापूर्ति योजनाएं : गोविंद ठाकुर

 

101 करोड़ की लागत से 26 सड़क परियोजनाओं के कार्य प्रगति पर

सरकारी स्कूलों में प्री-नर्सरी के लिये नियुक्त किये जाएंगे एन.टी.टी.

स्वतंत्र हिमाचल
प्रेम सागर चौधरी (बंजार)

यह बात शिक्षा व कला, भाषा एवं संस्कृति मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने सोमवार को बंजार विधानसभा क्षेत्र के पुजाली में 52 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के भवन का लोकार्पण करने के उपरांत जनसभा को संबोधित करते हुए कही। शिक्षा मंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति को प्रदेश में अक्षरशः लागू किया जा रहा है। बच्चे अब सरकारी स्कूलों में दाखिला लेने के लिये प्रोत्साहित होंगेे। उन्होंने कहा कि नर्सनी-प्री नर्सरी के लिये एन.टी.टी. अध्यापकों की नियुक्ति की जाएगी। इसकी प्रक्रिया पूरी की जा रही है। उन्होंने कहा पुजाली स्कूल में विज्ञान तथा वाणिज्य की कक्षाएं मुख्यमंत्री से चर्चा करने के उपरांत आरंभ करेंगे। गोविंद ठाकुर ने कहा कि बंजार क्षेत्र में पेयजल व सिंचाई योजनाओं पर तेजी के साथ कार्य चला है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत 29 करोड़ रुपये की 29 योजनाएं निर्मित करके लगभग 15 हजार घरों को नल में जल की सुविधा प्रदान की गई हैं। नाबार्ड के तहत 25.50 करोड़ रुपये लागत की आठ योजनाओं का कार्य प्रगति पर है। अनुसूचित जाति घटक योजना 4.10 करोड़ रुपये की विभिन्न चार योजनाएं कार्यान्वित की गई हैं। एशियन विकास बैंक के तहत 5.67 करोड़ रुपये की एक बड़ी परियोजना बनाई गई है। स्टेट योजना के तहत 80 लाख की एक योजना का कार्य किया गया। इसी प्रकार, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत 13.70 करोड़ रुपये की छः योजनाओं पर कार्य चला है। हिमकैड के तहत तीन करोड़ की चार योजनाएं बंजार के लिये दी गई हैं। उन्होंने कहा कि बंजार क्षेत्र के लिये मुख्यमंत्री उदारतापूर्वक प्रस्तावित योजनाओं के लिये धनराशि स्वीकृत करते हैं। विकास की जो भी मांग स्थानीय विधायक उनसे करते हैं, वह सभी पूरी होती हैं। उन्होंने सराय भवन के लिये तीन लाख की राशि, देवीथाच प्राथमिक स्कूल को माध्यमिक पाठशाला, पेचा को भी माध्यमिक पाठशाला तथा माध्यमिक पाठशाला तांदी को उच्च विद्यालयों में स्त्तरोन्नत करने के लिये मुख्यमंत्री से चर्चा करके लोगों की मांग को पूरा करेंगे।


इससे पूर्व, ग्राम पंचायत खाबल के तीर्थ स्थल बालो में बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने शिक्षा मंत्री का स्वागत किया और उनके समक्ष अपनी मांगे रखी। शिक्षा मंत्री ने स्थानीय विधायक के साथ जनसमस्याएं भी सुनी। विधायक सुरेन्द्र शौरी ने अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री का जब भी बंजार विधानसभा क्षेत्र का दौरा हुआ, करोड़ों की विकास योजनाएं उन्होंने मांग पर क्षेत्र के लिये दी हैं। कोरोना काल में मुख्यमंत्री वर्चुअल माध्यम से बंजार विधानसभा क्षेत्र के लिये विकास की अनेक परियोजनाआंे के उद्घाटन और शिलान्यास किये हैं। आज बंजार विधानसभा क्षेत्र में 101 करोड़ रुपये की लागत से 26 सड़कों के कार्य प्रगति पर हैं। 7.84 करोड़ की लागत से बंजार बाईपास का निर्माण कार्य चला है। उन्होंने कहा कि 2.89 करोड़ की लागत से बंजार में हैलीपैड का निर्माण किया जा रहा है। देवरी-सनाड़-सड़क का निर्माण 6.15 करोड़ की लागत से किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले चार सालों के दौरान विधानसभा क्षेत्र के अनेक ऐसे गांवों को सड़क सुविधा प्रदान करने में हम कामयाब हुए हैं, जिसके लिये लोग दशकों से तरसते रहे। सुरेन्द्र शौरी ने कहा कि खाबल ग्राम पंचायत के लिये 212 लाख रुपये की मोहनी-खाबल पेयजल योजना निर्मित की गई है। इसके अलावा, 722 लाख रुपये की बलागाड़-चेथर-खाबल सिंचाई योजना पर कार्य किया जा रहा है। क्षेत्र के लिये प्रस्तावित योजनाओं की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हिमकैड के अंतर्गत 615 लाख रुपये की मोहनी-खाबल योजना, 12.40 करोड़ की दो बड़ी पेयजल योजनाएं , जल जीवन मिशन के तहत 25.34 करोड़ रुपये की एक योजना तथा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत छः पंचायतों के लिये 5 करोड़ रुपये की योजनाएं प्रस्तावित हैं और जल्द ही इनकी प्रक्रिया पूरी करके कार्य आरंभ किया जाएगा। जिला भाजपा अध्यक्ष भीमसेन ने कहा कि बीते चार सालों के दौरान बंजार विधानसभा क्षेत्र में लोगों ने विकास की बयार को देखा है। ऐसा कोई क्षेत्र नहीं जहां विकास नहीं पहुंचा हो। अनेकों सड़कों का निर्माण किया गया है तथा अनेक सड़कों को पक्का किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति को सुनिश्चित बनाया गया है। ऐसा एक भी व्यक्ति नहीं, जिस तक सरकार की कोई न कोई योजना नहीं पहुंची हो। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने जनमंच की शुरूआत करके सरकार को लोगों के घर तक पहुंचा कर मौके पर उनकी समस्याओं का समाधान किया। हिमकेयर, हिमाचल गृहिणी योजना, मुख्यमंत्री खेत संरक्षण, मुख्यमंत्री शगुन योजना, मुख्यमंत्री ग्राम पथ जैसी अनेक अभिनव योजनाओं को धरातल पर उतारकर लोगों का जीवन सरल बनाया है। मण्डलाध्यक्ष बलदेव मंहत ने भी अपने विचार रखें। उन्होंने क्षेत्र में हुए विकास पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला। स्थानीय पाठशाला के प्रधानाचार्य एच.एन मल्होत्रा ने स्वागत किया जबकि स्थानीय प्रधान लोत सिंह ठाकुर ने ग्राम पंचायत के लिये विकास की मांगें रखीं। स्कूली बच्चों ने इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। एसडीएम बंजार, जल शक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता, उपनिदेशक उच्च शिक्षा शांति लाल शर्मा, पंचायत समिति अध्यक्ष लता देवी, पंचायती राज संस्थानों के चुने हुए प्रतिनिधि, भाजपा के पदाधिकारी, अध्यापकगण, क्षेत्र की जनता व स्कूली बच्चे समारोह में उपस्थित रहेे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!