ऊना

अनुराग ने पीजीआई सेटेलाइट केंद्र के निर्माण कार्य में देरी पर जताई नाराजगी


मनरेगा के तहत अक्तूबर माह तक 10.42 लाख कार्य दिवस सृजित किए गए
केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने की दिशा की बैठक की अध्यक्षता


(ऊना )ललित ठाकुर


पीजीआई सेटेलाइट केंद्र के निर्माण में देरी पर केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने नाराजगी जाहिर की है। आज बचत भवन में बुलाई गई जिला विकास समन्वय तथा निगरानी समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि जिला के लिए स्वीकृत बड़े व महत्वपूर्ण प्रोजेक्टों के निर्माण में देरी नहीं होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि पीजीआई, ट्रिपल आईटी तथा रेलवे जैसे विषय सीधे लोगों से जुड़े हैं तथा इनमें देरी होने से परियोजना की लागत बढ़ती है, साथ ही स्थानीय निवासी इनके लाभ से वंचित हो जाते हैं। अनुराग ठाकुर ने कहा कि जिला ऊना के बड़े प्रोजेक्टों के प्रति संबंधित अधिकारी गंभीरता से कार्य करें तथा सही समय पर सही कदम उठाएं, ताकि उनका कार्य समय पर पूर्ण हो सके।
बैठक में बताया गया कि जिला ऊना में आयुष्मान भारत योजना के तहत 2604 लाभार्थियों का निशुल्क इलाज किया गया है, जिस पर 2.22 करोड़ रुपए की धनराशि खर्च हुई है। इसी प्रकार से हिमकेयर योजना के तहत 40,138 परिवारों का पंजीकरण किया गया है तथा 6,879 मरीजों को निशुल्क उपचार दिया गया है। हिमकेयर के तहत निशुल्क उपचार पर 3.33 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं।

अनुराग ठाकुर ने ऊना में निर्माणाधीन मदर एंड चाइल्ड अस्पताल के बारे में भी जानकारी हासिल की।
केंद्रीय राज्य मंत्री को जानकारी दी गई कि जिला के 500 तथा 250 आबादी वाले प्रत्येक गांव तक सड़क सुविधा पहुंचाई जा चुकी है।
मनरेगा के तहत रिकॉर्ड 10.42 लाख कार्य दिवस सृजित
बैठक में अनुराग ठाकुर ने कहा इस वित्त वर्ष में अक्तूबर माह तक मनरेगा के तहत रिकॉर्ड 10.42 लाख कार्य दिवस सृजित किए गए हैं तथा 34.95 करोड़ रुपए खर्च किए गए। जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में 5.79 लाख कार्य दिवस अर्जित किए गए थे, जिस पर 19.49 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। उन्होंने कहा कि कोविड संकट के दौरान वापस हिमाचल लौटे युवाओं को रोजगार प्रदान करने तथा ग्रामीण अर्थव्यवस्था में पूंजी का प्रवाह करने में मनरेगा का योगदान महत्वपूर्ण रहा है।
केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री ने कहा कि चिंतपूर्णी तथा गगरेट विधानसभा क्षेत्र में केंद्रीय विद्यालय खोलने के लिए सर्वे करवाने को टीम भेजी गई थी। उन्होंने कहा कि राज्य की एजेंसियां केवी खोलने के लिए सुविधाएं पूरी करें ताकि इस कार्य को शीघ्र आरंभ किया जा सके।
कृषि व उद्योग विभाग मिलकर प्रदान करे बाजार
बैठक में अनुराग ठाकुर ने कहा कि किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में कृषि उत्पादों को बाजार उपलब्ध करवाना अति आवश्यक है। इसलिए कृषि तथा उद्योग विभाग मिलकर रणनीति बनाए, ताकि जिला के किसानों को लाभ मिल सके। उन्होंने बागवानी विभाग को जिला ऊना में सेब की पैदावार के लिए गंभीरता के साथ प्रयास करने के निर्देश दिए।
इसके अलावा दिशा की बैठक में केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, स्वच्छ भारत मिशन, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, सर्व शिक्षा अभियान, सांसद आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना सहित अन्य केंद्रीय योजना पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में समिति के अन्य सदस्यों ने भी विभिन्न मुद्दों पर अपने विचार रखे।
बैठक में छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, विधायक राजेश ठाकुर, एचपीएसआईडीसी उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार, नगर परिषद ऊना के अध्यक्ष अमरजोत बेदी, उपायुक्त ऊना राघव शर्मा, एसपी अर्जित सेन ठाकुर, एडीसी डॉ. अमित कुमार शर्मा, सहायक उपायुक्त डॉ. रेखा कुमारी, पीओ डीआरडीए संजीव ठाकुर सहित समिति के सरकारी व गैर सरकारी सदस्य उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!