अर्की

ग्राम पंचायत चम्यावल में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

(अर्की)कृष्ण रघुवंशी

उपमंडल की ग्राम पंचायत चमयावल में टाईन्स नामक गैर सरकारी संस्था द्धारा महिलाओं के लिए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया ! कार्यक्रम की अध्यक्षता पंचायत प्रधान उर्मिला ठाकुर ने की ! इस अवसर पर संस्था की ओर से संगीता सहगल ने सैनेटरी पैड से होने वाले दुष्परिणामों के बारे मे महिलाओं को अवगत करवाया !

उन्होने बताया कि सैनेटरी पैड सेहत के साथ-साथ पर्यावरण को भी घातक हैं क्योंकि इनमें हानिकारक कैमिकल्स होते हैं ! इनसे महिलाओं को नौ प्रकार का कैंसर होने का खतरा रहता है ! इसके साथ हाईजीन से जुड़ी समस्याऐं पैदा हो सकती हैं ! यदि इसे सही तरीके से इस्तेमाल न किया जाए तो इसके लगातार इस्तेमाल से कई बीमारियां हो सकती हैं ! इसके प्रयोग से महिलाओं में इंफेक्शन और जलन की शिकायत भी देखी जाती है !

ऐसी परेशानियां महिलाओं की पीरियड समाप्त होने के बाद देखी जाती है ! ऐसा इसलिए होता है कि लंबे समय तक पैड का इस्तेमाल करने से एयर सर्कुलेषन बहुत कम हो जाता है जिससे जीवाणु पनपने लगते हैं ! यही जीवाणू पीरियड के कुछ दिनों बाद एलर्जी या इंफेक्शन का कारण बनते हैं ! उन्होने बताया कि इन पैड का कम इस्तेमाल कर के इनसे होने वाले दुष्परिणामों से बचा जा सकता है ! उन्होने महिलाओ को इन परेशानियों से बचने के लिए कुछ सुझाव भी दिए ! उन्होने बताया कि पैड या टैंप्पाॅन को हर 4 घंटे में बदलना चाहिए ।

एक पैड को एक बार प्रयोग के बाद दूसरी बार इस्तेमाल नहीं करना चाहिए ! इन्हें इस्तेमाल से पहले व बाद में अच्छी तरह से हाथों को साफ करना चाहिए ! पीरियड के समय टाईट पैंट या लोअर के स्थान पर ढीले ढाले कपड़े पहनने चाहिएं ! ऐसा करने से एयर सर्कुलेशन सही रहेगा तथा इंफेक्शन का खतरा कम होगा ! साथ ही इन पैड के प्रयोग के स्थान पर काॅटन से बने पैड या फिर मेंस्टृुअल कप का प्रयोग करना एक बेहतर विकल्प है ! ये कैमिकल फ्री होते हैं और सुरक्षित भी रहते हैं ! इस कार्यकम में कांता देवी,रोशनी भारद्धाज तथा निर्मला कंवर सहित अन्य महिलाऐं उपस्थित रहीं !

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!