किसानों के आंदोलन के आह्वान पर भारत बन्द के समर्थन में आनी में कांग्रेस और किसान सभा ने किया धरना प्रदर्शन

स्वतंत्र हिमाचल
(आनी) विनय गोस्वामी

आनी में मंगलवार सुबह करीब 11 बजे के बाद हिमाचल किसान सभा की आनी इकाई ने आनी के नए बस अड्डे से अपना प्रदर्शन शुरू किया जिसमें प्रदेश सचिव ओंकार शाद ने कहा कि जिस तरह से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने तीन काले कानूनों को लागू कर किसानों को कुचलने के प्रयास किया है ।

किसान सभा उसका पुरजोर विरोध करती है,उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने मनमाने ढंग से तानाशाही रवैया अपनाते हुए पिछले मॉनसून सत्र में देश और विदेश के पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने और देश के किसानों को कुचलने का जो प्रयास किया है उसके विरोध में देश भर के 500 से ज्यादा संगठन गत 26 नवम्बर से लगतर प्रदर्शन कर रहे हैं।

उन्हीं किसान विरोधी काले कानूनों के विरोध में आज भारत बन्द है और आनी में किसान सभा प्रदर्शन कर रही है।उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र सरकार इन तीनों क़ानूनों को वापिस नहीं ले लेती, तब तक देश भर के किसान विरोध प्रदर्शन करते रहेंगे ।

वहीं आनी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने हिमाचल प्रदेश कांग्रेस पार्टी व जिला कुल्लू कांग्रेस पार्टी के आह्वान पर किसानों के हित को देखते हुए किसान विल का विरोध किया व्लाक कांग्रेस पार्टी ने विश्राम गृह आनी से रैली शुरू की उसके बाद आनी पुल पर दो घण्टे के लिए कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की तथा किसान विल किसानों के हित में ध्यान रखते हुए वापस लो,आदि कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए आनी कांग्रेस के अध्यक्ष चंद्रकेश शर्मा ने कहा कि यदि यह विल वापस नहीं लिया तो आने वाले समय में यह आन्दोलन और उग्र रूप धारण कर सकता है, जिसकी जिम्मेदारी स्वयं सरकार की होगी।

तत्पश्चात कांग्रेस नेता रैली निकालते हुए एसडीएम के कार्यालय पहुंचे और एसडीएम चेत सिंह के माध्यम से ज्ञापन को राष्ट्रपति को देने की अपील की इस धरने प्रदर्शन में आनी कांग्रेस के अध्यक्ष चन्द्रकेश शर्मा,सतपाल ठाकुर, गुलाब वर्मा,सतपाल ठाकुर, महेंद्र कायथ,अजय गोस्वामी,चमन भारती,सजीव शर्मा,संजय मारकण्डेय,राकेश शर्मा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!