काँगड़ा

भाजपा और कांग्रेस की पंच- वर्षीय सत्ता व्यवस्था को बदलने का मिशन होगा कम्पलीट : कल्याण भंडारी

दोनों दलों की अदला-बदली वाली सरकार से जनता हो चुकी है तंग।*

देव भूमि हिमाचल में हो रही चारों तरफ दिल्ली* *मॉडल की चर्चा

कांग्रेस ने तीन व भाजपा ने लगभग दो दशकों तक लोगों को ठगने का किया काम

(कांगड़ा)मनोज कुमार

हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी के बढ़ते प्रभाव से लोगों ने गवर्नेंस के दिल्ली मॉडल की चर्चा करनी शुरू कर दी है और भाजपा-कांग्रेस की अदला बदली की सरकार को निरस्त करने का निर्णय ले लिया है। पिछले पचास सालों से सूबे में कभी कांग्रेस की और कभी भाजपा की सरकारों ने सत्ता हासिल की। जनता जब एक पार्टी की सरकार की कारगुजारी से आक्रोशित हो दूसरी पार्टी को सत्ता सौंपने का काम करती थी।

आजतक यही परम्परा चली आ रही थी परन्तु अब जनता के सामने आम आदमी पार्टी एक दमदार विकल्प के रूप में मौजूद है और जनता में विश्वास पैदा हो गया है कि देव भूमि हिमाचल को अब दिल्ली मॉडल की जरूरत है।
यह बात आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता कल्याण भण्डारी ने प्रेस के नाम जारी एक बयान में कही। उन्होंने बताया कि दो करोड़ आबादी की दिल्ली का कुल बजट 60000 करोड़ रुपये है जबकि सत्तर लाख जनसंख्या के हिमाचल प्रदेश का बजट 50000 करोड़ रुपये के करीब है। हिमाचल की तुलना में कम बजट होने के वावजूद दिल्ली वासियों को केजरीवाल की आम आदमी पार्टी की सरकार बिजली, पानी, शिक्षा एवं स्वास्थ्य सुविधाएं फ्री में उपलब्ध करवा रही है वहीं हिमाचल में लगभग तीन गुना अधिक बजट के वावजूद स्तिथि बिल्कुल इसके विपरीत है।

सबसे उल्लेखनीय बात यह है कि हिमाचल प्रदेशसरकार अपनी बिजली का उत्पादन कर हिमाचल वासियों को महंगी दर पर उपलब्ध करवा कर लोगों के साथ घोर अन्याय को अंजाम दे रही है वहीं पर केजरीवाल सरकार दूसरे राज्यों से बिजली खरीद कर एक करोड़ साठ लाख दिल्ली वासियों को मुफ़्त बिजली प्रदान कर प्रशासनिक व आर्थिक प्रबन्धन का बेहतरीन नमूना पेश कर इतिहास रच रही है जिसके चर्चे विदेशों में जमकर किये जा रहे हैं। भण्डारी ने आगे कहा कि हिमाचल प्रदेश के लोगों को कांग्रेस ने तीन व भाजपा ने लगभग दो दशकों तक ठगने का काम किया है और सूबे की जनता दोनों पार्टियों से हिसाब चुकता कर दोनों दलों की पंच-वर्षीय सत्ता व्यवस्था के परिवर्तन के मिशन को कम्प्लीट कर आम आदमी पार्टी की सरकार को सत्तासीन करेगी। सूबे में आम आदमी पार्टी की सक्रियता से भारी संख्या में लोगों का जुड़ने का सिलसिला शुरू हो चुका है। कल्याण भण्डारी के अनुसार प्रदेश की दोनों दलों के नेताओं ने आम आदमी पार्टी के संगठन के पदाधिकारियों से सम्पर्क साधना आरम्भ कर दिया है। ऐसे में भविष्य में दोनों पार्टियों से आम आदमी पार्टी की तरफ पलायन को नकारा नहीं जा सकता।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!