ऊना

महिलाओं की सुरक्षा के लिए समाज में बने स्वस्थ वातावरणः सतपाल सत्ती


महिला दिवस पर सतपाल सत्ती ने किया ‘संबल’ व ‘नव जीवन’ योजनाओं का शुभारंभ


जिला स्तरीय कार्यक्रम में गरिमा योजना के अंतर्गत 11 को किया गया सम्मानित


(ऊना)ललित ठाकुर

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आज राजकीय महाविद्यालय कोटला खुर्द में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने बतौर मुख्यतिथि शिरकत की। उपायुक्त ऊना राघव शर्मा विशेष रूप से इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे।
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए समाज में स्वस्थ वातावरण का निर्माण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में महिलाओं की स्थिति अन्य राज्यों के मुकाबले काफी बेहतर है तथा हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों के कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि महिलाओं के कल्याण के लिए प्रदेश सरकार अनेकों योजनाएं चला रही है। गृहिणी सुविधा योजना के तहत महिलाओं के नाम पर हिमाचल प्रदेश में अब तक 2.85 लाख निशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए। यह योजना सिर्फ गैस के कनेक्शन देने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में उठाया गया प्रदेश सरकार का एक बहुत बड़ा कदम है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने महिलाओं के प्रति होने अपराधों पर अंकुश लाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए शक्ति बटन ऐप व गुड़िया हेल्पलाइन शुरू की है।
छठे राज्य वित्तायोय के अध्यक्ष ने कार्यक्रम के दौरान संबल व नव जीवन योजनाओं का शुभारंभ करते हुए कहा कि इनसे समाज में एक बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। संबल योजना के तहत बेसहारा व अनाथ बच्चों के शिक्षा ग्रहण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। साथ ही नव जीवन योजना के माध्यम से विधवा महिलाओं को आजीविका उपार्जन के लिए सहायता प्रदान की जाएगी।
बेटियों का उच्च शिक्षा ग्रहण करना आवश्यकः डीसी
कार्यक्रम में उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने कहा कि बेटियों का उच्च शिक्षा ग्रहण करना आवश्यक है। बेटियों की उच्च शिक्षा पर ध्यान दिया जाए, तो हमारी बेटियां समाज का सामना करने में समर्थ हो सकेंगी। उन्होंने कहा जिला प्रशासन महिला उत्थान, विशेषतौर पर वंचित वर्ग की हर प्रकार से सहायता करने का प्रयास कर रहा है, ताकि धन के अभाव में किसी को शिक्षा अधूरी न छोड़नी पड़े। डीसी ने कहा कि पात्र महिलाओं को इन योजनाओं का लाभ लेना चाहिए तथा विभाग को इन योजनाओं की जानकारी प्रदान के लिए जागरूकता अभियान छेड़ना चाहिए।
गरिया योजना के तहत 11 को किया सम्मानित
छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर गरिमा योजना के तहत 11 व्यक्तियों को सम्मानित किया। बेटियां गोद लेने वाले अमनदीप, चरणजीत व सुरिंदर कुमार तथा बेटियों की उच्च शिक्षा के लिए ऋण लेने वाले रविंदर कुमार तथा कृष्णा देवी को 21-21 हजार रुपए के चैक प्रदान किए गए। इसके अतिरिक्त अपने मां-बाप की देखभाल कर रही बेटियों डेज़ी शर्मा, चांदनी, लज्या देवी तथा खुद का व्यवसाय करने वाली पूजा देवी, दीक्षा गर्ग तथा रेखा देवी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
5 महिलाओं की गोदभराई हुई
कार्यक्रम के दौरान गर्भवती महिलाओं राधा, तनुजा, काजल, रेणु बाला तथा दलजीत कौर की गोदभराई रस्म अदा की गई तथा पांच नवजात बच्चों का अन्नप्राशन कराया गया। इसके अलावा अपने-अपने क्षेत्र में उपलब्धियां हासिल करने वाली बेटियों श्वेता कतनोरिया, अंकिता संदल, निकिता, शिवानी, प्रिया कपिला, निमिषा कपिला तथा ऋषा शर्मा को मेरे गांव की बेटी, मेरी शान योजना के तहत सम्मानित किया गया।
बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत मां-बेटी रैंप वॉक
जिला स्तरीय कार्यक्रम के दौरान बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत मां-बेटी रैंप वॉक का योजना किया गया, जिसमें 17 महिलाओं ने अपनी बेटियों के साथ रैंप वॉक किया। इस कार्यक्रम के दौरान छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने पोषण अभियान पर शपथ भी दिलाई। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया।
कार्यक्रम में जिला परिषद अध्यक्ष ऊना नीलम कुमारी, एसडीएम ऊना डॉ. निधि पटेल, जिला कार्यक्रम अधिकारी सतनाम सिंह, सीडीपीओ कुलदीप दयाल, राज्य महिला की सदस्य इंदु बाला, सक्षम गुड़िया बोर्ड की सदस्य देव कला, अध्यक्ष हिमोत्कर्ष महिला विंग दीपशिखा कौशल, हिमोत्कर्ष संस्था के प्रदेशाध्यक्ष जितेंद्र कंवर, प्रधानाचार्य त्रिलोक चंद, अनिल कुमार, हरीश मिश्रा के साथ-साथ अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!