कोविड से लड़ने के लिए प्रशासन तैयार, लोगों का सहयोग जरूरी :चेत सिंह

आइसोलेशन में रह रहे लोग मानें नियम, कोविड जैसे लक्षण होने पर करवाएं टेस्ट

स्वतंत्र हिमाचल
(आनी) विनय गोस्वामी

एसडीएम आनी चेत सिंह ने कहा है कि आइसोलेशन में रह रहे लोगों को समय समय पर जारी सरकार के नियम मानना आवश्यक है। अपनी, परिवार और समाज की सुरक्षा के लिए लोग इन नियमों को स्वेच्छा से मानें ताकि कोविड 19 महामारी पर नियंत्रण किया जा सके।

उनका कहना है कि आइसोलेशन में रह रहे लोगों पर प्रशासन की कड़ी नजर है और किसी भी आपातकाल की स्थिती में प्रशासन इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है। आनी उपमंडल में कोविड 19 के मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। कोरोना के मामले सामने आने के बाद आवश्यकतानुसार तुरंत कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे हैं। सरकार के दिशा निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करवाई जा रही है। सरकारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए जनसहयोग के साथ उपमंडल में कोविड महामारी से लड़ने के लिए प्रशासन कृतसंकल्प है।

एसडीएम का कहना है कि उपमंडल में कोरोना के कम मामले होने के बावजूद लोगों को सभी सावधानियां बरतें एवं मानक संचालन प्रक्रियाओं का कड़ाई से अनुपालन करें। इस संबंध में संबंधित अधिकारियों निर्देश भी दिए गए हैं। टेस्टिंग, ट्रेसिंग एवं ट्रीटमेंट पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कोविड-19 से उबरने के बाद देखभाल के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी पोस्ट कोविड प्रबंधन प्रोटोकॉल संबंधी परामर्श के अनुपालन का भी आग्रह किया है।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि लोग कोविड अनुरुप उचित व्यवहार जारी रखें मास्क का उपयोग करें, हाथों को नियमित तौर पर धोएं। लोगों से उचित दूरी बनाएं। भीड़ भाड़ वाले इलाके में न जाएं न ही व्यर्थ में भीड़ एकत्रित करें। स्वास्थ्य अनुरुप हल्का/मध्यम व्यायाम, योगासन, प्राणायाम, ध्यान एवं सैर का दैनिक अभ्यास करें। संतुलित, पौष्टिक व ताज़ा पका भोजन खाएं। पर्याप्त नींद लें और आराम करें। धूम्रपान और शराब के सेवन से बचें।

पंचायत स्तर पर हो रही निगरानी


एसडीएम का कहना है कि आइसोलेशन में रह रहे लोगों की पंचायत स्तर पर निगरानी हो रही है। इसमें जन प्रतिनिधि अपनी सक्रीय भूमिका निभा रहे हैं। आनी और निरमंड नगर पंचायतों के जन प्रतिनिधि भी महामारी से निपटन में सहयोग दे रहे हैं। उनका कहना है कि पंचयतों को ये सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि यदि कोई व्यक्ति बाहरी राज्यों से पंचायत में प्रवेश करता है तो नियमानुसार मामले पर आगामी कार्रवाई करे। लोगों को शादी और दाह संस्कार के अलावा किसी भी प्रकार के सामाजिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं है। यदि लोग बिना अनुमति कोई कार्यक्रम करते हैं जन प्रतिनिधि इसकी सूचना प्रशासन को दें ताकि उचित कार्रवाई अमल में लाई जा सके।

कोरोना के कम मामले पर एहतियात बरतें


एसडीएम चेत सिंह का कहना है कि आनी उपमंडल में कोरोना के सक्रीय मरीजों की संख्या 98 है। कोरोना की दूसरी लहर में अभी तक 2 मरीजों की मृत्यु हुई है। उपमंडल में 23036 लोगों को कोविड टीकाकरण का पहला डोज और 5084 लोगों को दूसरा डोज लग चुका है। टीकाकरण सरकारी दिशा निर्देशों के तहत अंजाम दिया जा रहा है। कोविड–19 के दौरान गंभीर रूप से बीमार हुए मरीजों को अधिक निगरानी की आवश्यकता होती है। अतः नियमित रूप से चिकित्सक के संपर्क में रहें। कोविड से संबंधित अधिक जानकारी के लिए जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की 24×7 दूरभाष सेवा 1077 पर या 104 पर संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!