काँगड़ा

2555 SMC शिक्षकों के मानदेय में 500 की वृद्धि एक भद्दा मजाक

स्वतंत्र हिमाचल
(बैजनाथ)विजय  कुमार

 

जिला कांगड़ा अध्यक्ष विकास ठाकुर, उपाध्यक्ष नितेश शर्मा, जनरल सेकट्री राजेश कुमार केशियर मानसिंह अध्यक्ष विकास ठाकुर ने कहा कि सरकार ने बजट में 2555 एसएमसी अध्यापकों के साथ 500 रुपये मानदेय में बृद्धि करके भद्दा मजाक किया हैं। जोकि बहुत ही निराशाजनक हैं। एसएमसी अध्यापकों को सरकार से उम्मीद थी कि सरकार बजट में 2555 एसएमसी अध्यापकों के लिए पीटीए, पैट, पैरा और पंजाबी व उर्दू अध्यापकों की तर्ज पर स्थाई नीति बनाएगी।

लेकिन सरकार ने 500 रुपये बढ़ा कर एसएमसी अध्यापकों के साथ मजाक किया हैं। अब इसको लेकर एसएमसी अध्यापक जल्दी राज्यस्तरीय बैठक करेंगें। तथा सड़को पर उतरने से भी परहेज नही करेंगें। एसएमसी अध्यापक पिछले 09 बर्षों से हिमाचल प्रदेश के विभिन्न अति दुर्गम घाटियों के स्कूलों में कम वेतन और बिना किसी अवकाश के लगातार अपनी सेवाएं दे रहें हैं।

सरकार ने जब पीटीए, पैट, पैरा और पीढ़ियड बेसिस पंजाबी व उर्दू अध्यापकों को नियमित कर दिया हैं तो एसएमसी अध्यापकों के साथ अन्याय क्यों कर रही हैं। सरकार इनकी तर्ज पर 2555 एसएमसी अध्यापकों को भी नियमित करें जिससे एसएमसी अध्यापकों का भविष्य सुरक्षित हो सके। सरकार ये भूल चुकी है कि एक मात्र एसएमसी अध्यापक संघ ने 2017 मै बीजेपी सरकार का परिवार सहित समर्थन दिया था ओर आज सरकार इन्हीं अध्यपकों का शोषण कर रही है। अगर सरकार ने जल्दी से सही निर्णय नहीं लिया तो 2555 एसएमसी अध्यापक परिवार सहित सड़कों पे उतरेंगे।
विकास ठाकुर जिला कांगड़ा अध्यक्ष

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!