शीतकालीन सत्र रद्द करना मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का एतिहासिक निर्णय : वंदना गुलेरिया

स्वतन्त्र हिमाचल

(सरकाघाट)रंजना ठाकुर

भाजपा महिला मोर्चा हिमाचल प्रदेश की प्रदेश महामंत्री एवम् प्रदेश जुबलाईन जस्टिस केयर आयोग सदस्य वंदना गुलेरिया ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा विधानसभा सत्र न करवाने के फैसले की ना सिर्फ़ सराहना की हैं बल्कि इसे एतिहासिक निर्णय करार दिया हैं । वंदना ने कहा कि एक सत्र में तकरीबन 10 करोड़ का खर्च होता है और तकरीबन 150 कर्मचारी इस दौरान कार्य में लगते हैं।

इस महामारी के बढ़ते प्रकोप को मद्देनजर रखते हुए माननीय मुख्यमंत्री ने शीतकालीन सत्र न करने का फैसला कर बहुत अच्छा निर्णय लिया है।राजनीतिक और सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक,शादी ब्याह में केवल 50 लोग और सारे राजनीतिक कार्यक्रम,उद्धघाटन वर्चुअल माध्यम से करने के निर्देश प्रदेश हित में है।उन्होंने कहा कि प्रदेश की जयराम सरकार कोरोना के खिलाफ हर तरह का अभियान चलाने हेतु तैयार है और इसके लिए जनता का सहयोग भी अपेक्षित है।

भाजपा महिला मोर्चा एक बार फिर मास्क को लेकर जागरूकता अभियान चलाने वाला है।जिला स्तर पर सभी को प्रदेश अध्यक्ष द्वारा निर्देश दे दिए गए है कि मंडल स्तर तक मास्क पहनने को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!