बोर्ड परीक्षाएं स्थगित किए जाने के निर्णय पर निजी स्कूल प्रबंधकों ने जताया रोष

(सरकाघाट)रितेश चौहान

निजि स्कूल संघ की एक महत्वपुर्ण वैठक कर्नल बलवन्त सिंह की अध्यक्षता में सरकाघाट में सम्पन हुई वैठक मे करीव एक दर्जन निजि स्कूलो के संचालको ने भाग लिया तथा प्रदेश सरकार द्वारा  बोर्ड  की परीक्षाओं को  स्थगित किए जाने के निर्णय  पर   निजी  स्कूल प्रबंधन, अभिभावक,  और बच्चों ने रोष प्रकट किया. परीक्षाएं   स्थगित  किए जाने पर  अभिभावक और बच्चे  मानसिक तनाव से   प्रताड़ित   हो  रहे हैं . उनकी आने वाली नीट जेई   की  प्रतियोगिता परीक्षाएं   समय पर नहीं हो पाएगी. बच्चे और अभिभावक असमंजस में है

हिमाचल में  एचपी बोर्ड की  परीक्षा सुचारू रूप से चली थी, सरकार द्वारा जारी  एस. ओ.पी .का पूरा ध्यान रखा जा रहा था. सवाल यह है कि  सरकार बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित कर शक्ति  हैं  लेकिन चुनाव स्थगित नहीं हो सकते ऐसी दोहरी मानसिकता क्यों. पिछले 2 साल से  ऑनलाइन  कक्षाएं  लगाकर  फीडेप हो चुके हैं. इससे इनके भविष्य पर तलवार लटकी हुई है. स्कूल प्रबंधकों ने विभिन्न माध्यमों से अपनी बात सरकार तक पहुंचाई की  पिछले डेढ़  वर्ष से  स्कूल बसें खड़ी हैं

लाखों के हिसाब से उनका विभिन्न प्रकार के टैक्स वसूले जा रहे हैं. इसके बारे में सरकार कुछ भी नहीं सोच रही. स्कूल बार-बार बंद किए जा रहे हैं. सरकाघाट के निजी  स्कूल  प्रबंधकों  ने  सरकार से गुहार लगाई  कि अगर हमारी समस्याओं का  जल्द से जल्द समाधान नहीं किया गया  तो हम स्कूल बसों को तहसील मुख्यालय में खड़ी करके  सरकार का घेराव करेंगे l इस अवसर पर एसपीएस इंटरनेशनल स्कूल के चेयरमैन  सुरेंद्र कुमार, जीवन ज्योति आदर्श विद्यालय के प्रबंधक की जीवानंद,  हिल व्यू पब्लिक स्कूल के प्रबंधक सुमन शर्मा,  हिमालयन पब्लिक स्कूल के संचालक मनीष कुमार, ओयस्टर  पब्लिक स्कूल  के संचालक दिलबाग सिंह,  सनराइज पब्लिक स्कूल के प्रबंधक पवन कुमार जी शामिल थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!