मंडी

प्रदेश में बनी नई पंचायतों में पशु औषधालय खोल सभी बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों को दिया जाए रोजगार

(सरकाघाट)रितेश चौहान

आज प्रदेश के बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों ने एस डी एम मंडी के माध्यम से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जी को प्रदेश में बनी नई पंचायतों में पशु औषधालय खोलने व बेरोजगार बैठे सभी फार्मासिस्टों को नियुक्त करने बारे ज्ञापन भेज । वेटेरिनरी फार्मासिस्ट शुभम , आशु , निखिल , तिलक ने कहा कि प्रदेश में काफी समय से पंचायत वेटेरिनरी सहायक के पद रिक्त चले हुए है जिन्हें की सरकार द्वारा अभी भरा नही जा रहा है । उन्होंने कहा कि प्रदेश में 400 के करीब नई पंचायतो का गठन किया गया है , जिसमे सरकार “मुख्यमंत्री आरोग्य पशुधन योजना ” के अंतर्गत पशु औषधालय खोल सभी बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्ट को नियुक्त कर उन्हें स्वरोजगार प्रदान कर सकती है ।


उन्होंने कहा कि वितीय वर्ष 2010-11 के बजट अभिभाषण में एक नई योजना “मुख्यमंत्री आरोग्य पशुधन योजना” आरम्भ करने की घोषणा की गई थी । जिसके अंतर्गत सभी पंचायतों में चरणबद्ध तरीके से कम से कम एक पशु चिकित्सा संस्थान खोलने का लक्ष्य रखा गया है I अब प्रदेश 400 के करीब नई पंचायते बनाई गई है परन्तु अभी तक न ही कोई संस्थान बना और न ही कोई नियुक्ति हुई । अभी भी कुछ पुरानी पंचायतें ऐसी है जहां आज तक पशु औषधालय नही खुला ।

एक ही फार्मासिस्ट 2 से 3 पंचायतों का कार्यभार संभाल रहा है । उन्होंने कहा कि हमारा प्रदेश पशुपालन व कृषि पर आधारित है तथा यह दोनों व्यवसाय आपस मे एक गहरा संबंध रखते है । प्रदेश में नई बनी नई पंचायतों में पशु औषधालय न होने से प्रदेश में छोटे स्तर के पशुपालको को आर्थिक तौर पे भी मुश्किल होती है और कई बार व सरकार की काफी सुविधाओं से वंचित रह जाते है ।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में इस समय लगभग 320 के करीब वेटेरिनरी फार्मासिस्ट बेरोजगार बैठे हुए है तथा यह संख्या इस साल के अंत तक 500 को पार कर जाएगी । उन्होंने सरकर से यह निवेदन किया है कि प्रदेश में जल्द से जल्द नई पंचायतों में पशु औषधालय खोलकर बेरोजगार बैठे सभी वेटेरिनरी फार्मासिस्टों को रोजगार दिया जाए

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!