जनितरी धार से मुराह धार तक आग ही आग धुं धुं कर जलने लगे जंगल

स्वतंत्र हिमाचल

(धर्मपुर)डीआर कटवाल

धर्मपुर क्षेत्र के अधिकांश जंगलों में आग के कारण जंगल में रहने वाले पशु पक्षियों व अन्य जंगली जीवों का जीना दूभर हो गया है और कुछ जलकर मर भी रहे हैं वैसे भी आजकल पक्षियों में प्रजनन का वक्त होता है धर्मपुर क्षेत्र के जनित्री धार,मुराहधार, जोगणी माता मंदिर, तक जंगल में आग लगी हुई है और लगभग 25 से 30 किलोमीटर तक जंगल जलकर राख हो चुका है स्थानीय लोग आग को बुझाने का प्रयत्न कर रहे हैं मगर आग इतनी ज्यादा भयानक है कि बुझाने पर भी नहीं बुझ रही है

जंगलों में आग लगने का मुख्य कारण है जंगलों के नजदीक की जा रही खेतों व घासणी की साफ सफाई लोगों द्वारा की जाती है और उसके कचरे को जलाया जाता है मगर कचरे को जलाने के बाद लोग अपने घर चले जाते हैं और यह आग सुलगती हुई जंगलों में प्रवेश कर जाती है जिसकी वजह से जंगलों में आग तबाही मचा रही है वन विभाग के कर्मी भी आग बुझाने में जुटे हुए हैं परंतु आग बेकाबू होती जा रही है

समाजसेवी रणवीर ठाकुर

ग्राम पंचायत लंगेहड़ के द्रुमण निवासी समाज सेवी रणवीर ठाकुर ने कहा कि क्षेत्रवासियों को चाहिए कि वह अपने खेतों की साफ सफाई करते वक्त ध्यान रखें कि उनके खेतों से कोई आग सुलगती हुई जंगल की ओर ना सुलगे ताकि जंगलों में रह रहे पशु पक्षियों व अन्य जीवों को किसी तरह का नुकसान ना पहुंचे और वनों जैसी सम्पदा भी बची रहे समाचार लिखे जाने तक आग पर काबु नहीं पाया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!